1 lakh families, enter home, under the Pradhan Mantri Awas Yojana, Madhya Pradesh

मध्य प्रदेश में प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत 1 लाख परिवार करेंगे गृह प्रवेश

भोपालः  मध्य प्रदेश में प्रधानमंत्री आवास योजना के तहत एक लाख हितग्राहियों को आवास मिलने वाला है, यह हितग्राही मंगलवार को अपने नए आवास में गृह प्रवेश करने वाले हैं। केंद्रीय गृह मंत्री अमित शाह और मुख्यमंत्री शिवराज सिंह चौहान एक लाख हितग्राहियों को वर्चुअल कार्यक्रम के जरिए नये आवास में गृह-प्रवेश करवाएंगे। साथ ही ‘गृह-प्रवेश’ कार्यक्रम में केंद्रीय मंत्री शाह एवं मुख्यमंत्री चौहान हितग्राहियों से वर्चुअल संवाद भी करेंगे।

राज्य में प्रधानमंत्री आवास योजनांतर्गत इतनी बडी संख्या में गृह-प्रवेश कराये जाने का यह दूसरा बड़ा आयोजन है। इससे पहले 12 सितंबर 2020 को प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी ने प्रदेश के दो लाख हितग्राहियों को गृह-प्रवेश कराया था। राज्य में योजनांतर्गत कोरोना की चुनौतियों से निपटते हुए तीन लाख से अधिक आवास निर्मित किये गये। वैसे राज्य में 18 लाख ग्रामीण परिवारों को अब तक आवास उपलब्ध कराए गए हैं।

योजनान्तर्गत हितग्राही को मकान की इकाई लागत मैदानी जिलों में एक लाख 20 हजार तथा दूरस्थ पहुंच-विहीन, दुर्गम पहाड़ी क्षेत्रों में एक लाख 30 हजार रुपए शत-प्रतिशत अनुदान के रूप में आवास निर्माण कार्य की प्रगति के आधार पर किश्तों के रूप में दिये जाते हैं। मकान के साथ ही स्वच्छ शौचालय का निर्माण भी किया जाता है। हितग्राही को उज्जवला योजना के तहत एल.पी.जी. गैस कनेक्शन भी उपलब्ध कराया जाता है।

प्रधानमंत्री आवास योजना के जिन एक लाख हितग्राहियों को गृह प्रवेश कराया जा रहा है, उन्हें एक लाख बीस हजार के मान से लगभग 12 सौ करोड़ से अधिक राशि उनके खातों में अंतरित की गई थी। आवासों को पूर्ण करने का अधिकतम समय 12 माह है, परंतु यह आवास कोविड-19 के चुनौतीपूर्ण समय में अत्यंत कम अवधि में तेजी से पूर्ण किये गये हैं। जबकि राष्ट्रीय स्तर पर आवासों की पूर्णता की अवधि 114 दिन है। इस योजना ने वास्तविक अर्थों में विपदा को अवसर में बदला है।



Live TV

-->
Loading ...