Lakkhowal union

भारतीय किसान यूनियन लक्खोवाल गुट को किसानों की 30 जत्थेबंदियों ने किया सस्पेंड

चंडीगढ़: किसानों ने बैठक के बाद बताया कि कानूनों पर विस्तार से चर्चा हुई है जिसके चलते आज प्रदर्शन जगह जगह चल रहे हैं। अनियमित समय के लिए लखोवाल यूनियन के साथ  सस्पेंड किया कर दिया गया है। किसानों के साथ जब तक केंद्र लिखित तोर पर सन्देश नही भेज जाता तब तक प्रदर्शन जारी रहेंगे। सीएम से कहते है कि विधानसभा सेशन बुलाकर 7 दिन में प्रस्ताव नही पास किया गया तो हम भाजपा नेताओं के घेराव की तरह कांग्रेस के नेताओं का करेंगे अब 15 अक्टूबर को दुबारा बैठक होगी कि अगर केंद्र या पंजाब सरकार नही सुनती तो नए संघर्ष का एलान करेंगे।

दिल्ली से जो चिठी आई है वह कृषि विभाग के अधिकारी की तरफ़ से है किसी मंत्री या सरकार की तरफ से नही तो है वहां नही जाएंगे लेकिन हम बात करने के लिए तैयार है। हरियाणा में जो लाठीचार्ज किसानों पर हुआ व हाथरस के मामले को लेकर निंदा की है। परसो हम हरियाणा किसानों के साथ हुए लाठीचार्ज पर 12 बजे से 2 बजे तक पंजाब में रोष प्रदर्शन करेंगे जिसमे रास्ते रोक सकते हैं। सुप्रीम कोर्ट में गई यूनियन को अभी हम शामिल नही करेंगे जब तक वह रिट वापिस नही लेते इसके चलते लखोवाल यूनियन के साथ  सस्पेंड किया है लेकिन नाता नही तोड़ा है।