punjab university

पंजाब में विश्वविद्यालय और कॉलेज की परीक्षाए रद्द, बिना पेपर दिए पास होंगे छात्र, Guidlines जारी


चंडीगढ़ः कोरोना महामारी के चलते पंजाब में विश्वविद्यालय और कॉलेज की परीक्षाए रद्द कर दी गई हैं।  मुख्यमंत्री अमरिंदर सिंह ने शनिवार को कहा कि कोरोना वायरस महामारी को देखते हुए पंजाब में विश्वविद्यालय और कॉलेज की परीक्षा रद्द कर दी गई है। छात्रों को उनके पिछले साल के परिणामों के आधार पर प्रमोट किया जाएगा।  लेकिन बाद में परीक्षा देने का विकल्प भी होगा। अमरिंदर सिंह ने अपने वीकली 'AskCaptain' फेसबुक लाइव में घोषणा की।



हालांकि, कुछ यूनिवर्सिटीज की ओर से आयोजित की जा रही ऑनलाइन परीक्षा जारी रहेगी। मुख्यमंत्री ने कहा कि यूनिवर्सिटी और कॉलेज अगले कुछ हफ्तों में इस फैसले को लागू करने के तौर तरीकों पर काम करने की तैयारी में हैं। सीएम ने सभी छात्रों से परीक्षाओं को रद्द करने के बावजूद सही तरीके से पढ़ाई जारी रखने का आग्रह किया है।


इस बीच, सीएम ने पंजाब सिविल सेवा परीक्षा के लिए आने वाले पूर्व सैनिकों की संख्या में वृद्धि की घोषणा की है। मौजूदा व्यवस्था के अनुसार अनुसूचित जाति के उम्मीदवारों को असीमित मौके मिलते रहेंगे, जबकि सामान्य वर्ग के पूर्व सैनिक अब पहले के चार के बजाय 6 अटेम्प्ट दे सकते हैं। पूर्व सैनिकों की कैटेगरी के पिछड़े वर्ग के लिए, अटेम्प्ट की संख्या बढ़ाकर नौ कर दी गई है।