पंचांग

पंचांग और शुभ मुहूर्त 22 नवंबर

शुभ विक्रम संवत्- 2077, हिजरी सन्- 1440-41, ईस्वी सन् -2020

अयन- दक्षिणायण

मास-कार्तिक

पक्ष-शुक्ल

संवत्सर नाम-प्रमादी

ऋतु-हेमंत

वार-रविवार

तिथि (सूर्योदयकालीन)-अष्टमी

नक्षत्र (सूर्योदयकालीन)-धनिष्ठा

योग (सूर्योदयकालीन)-व्याघात

करण (सूर्योदयकालीन)-विष्टि

लग्न (सूर्योदयकालीन)-वृश्चिक

शुभ समय-9:11 से 12:21, 1:56 से 3:32

राहुकाल- सायं 4:30 से 6:00 बजे तक

दिशा शूल- पश्चिम

योगिनी वास-ईशान

गुरु तारा-उदित

शुक्र तारा-उदित

चंद्र स्थिति-कुंभ

व्रत/मुहूर्त-गोपाष्टमी

यात्रा शकुन- इलायची खाकर यात्रा प्रारंभ करें।

आज का मंत्र-ॐ घृणि: सूर्याय नम:।

आज का उपाय- मंदिर में खीर चढाएं।

वनस्पति तंत्र उपाय-बेल के वृक्ष में जल चढ़ाएं।