Amit Shah, Jammu Kashmir

लोकसभा में शाह बोले- उचित समय आने पर जम्मू-कश्मीर को राज्य का दर्जा वापस मिलेगा

लोकसभा में जम्मू-कश्मीर पुनर्गठन संशोधन विधेयक पर चर्चा के दौरान गृह मंत्री अमित शाह ने कहा कि जम्मू कश्मीर के हालात को हमें समझना होगा। धारा 370 पर 17 महीने में विपक्ष हमसे हिसाब मांग रहा है, मैं उनसे पूछना चाहता हूं कि 70 सालों तक आपने क्या किया? उन्होंने कहा कि पीढ़ियों तक जम्मू कश्मीर पर शासन करने वाले बताएं। 

लोकसभा में आज गृहमंत्री अमित ने कहा- धारा 370 हटनी चाहिए थी हमने हटा दी है। गृह मंत्री ने कहा कि हम हर हिसाब देने को तैयार हैं लेकिन बता दें कि कोरोना की वजह से एक साल तक सब कुछ बंद रहा। सुप्रीम कोर्ट में सुनवाई अब प्रत्यक्ष रूप से सुनवाई शुरू हो रही है। अमित शाह ने कहा कि वे एक बार फिर लोकसभा में कह रहे हैं कि उचित समय आने पर जम्मू-कश्मीर को राज्य का दर्जा वापस मिलेगा।

लोकसभा में शाह ने कहा कि ओवैसी कहते हैं कि जम्मू-कश्मीर में मुसलमान अफसरों की संख्या कम है। लेकिन मैं पूछना चाहता हूं कि क्या आप अफसरों को भी हिन्दू मुस्लिम के आधार पर बांटेंगे। क्या हिन्दू अफसर मुस्लिम नागरिक से बात नहीं कर सकता है। मुस्लिम अफसर हिन्दू नागरिक से सवाल नहीं पूछ सकता है क्या?  आप अफसरों को भी धर्म के आधार पर बांटेंगे। 

वहीं कांग्रेस पर हमला करते हुए अमित शाह ने कहा कि जो पार्टी हम पर 2जी और 4जी रोकने का आरोप लगाती है उनके राज में तो जम्मू कश्मीर में महीनों तक मोबाइल ही बंद रहता था। गृह मंत्री ने कहा कि राज्य में अफवाह न फैले इसलिए इंटरनेट सेवा पर कुछ समय के लिए रोक लगाई गई थी जो कि अब बहाल कर दी गई है।









Live TV

-->
Loading ...