50 special camps

सेवा केन्द्रों के अलावा रोज़ाना के 50 Special Camp लगाकर बनाऐ जा रहे हैं E-health Cards : DC Thori

जालंधर, आयुष्मान भारत सरबत स्वास्थ्य बीमा योजना अधीन मिलने वाली 5 लाख रुपए तक के कैशलैस इलाज की सुविधा का लाभ अधिक से अधिक योग्य लाभापतरियों को देने के लिए प्रशासन की तरफ से किये जा रहे ठोस प्रयत्नों से जालंधर जिले में अब तक लगभग 3,68,720 ई -हैल्थ कार्ड बनाऐ जा चुके हैं। डिप्टी कमिश्नर घनश्याम थोरी ने बताया कि प्रशासन की तरफ से ज़िले के स्वास्थ्य संस्थानों, कामन सर्विस सैंटरों (सीएससी) और सेवा केन्द्रों में इस योजना अधीन ई -हैल्थ कार्ड बनाने के इलावा अलग -अलग स्थानों पर रोज़ाना 50 कैंप विशेष लगाकर औसतन 4500 के करीब ई -हैल्थ कार्ड हर रोज़ बनाऐ जा रहे हैं। 

आयुष्मान भारत – सरबत स्वास्थ्य बीमा योजना को क्रातिंकारी योजना बताते हुए डिप्टी कमिश्नर ने कहा कि लोग इस योजना अधीन सरकारी और सूचीबद्ध अस्पतालों से 5 लाख रुपए के कैशलैस इलाज का लाभ ले सकते हैं। उन्होनें बताया कि जिले के सभी 13 सरकारी स्वास्थ्य संस्थानों और 56 निजी अस्पतालों को सूचीबद्ध किया गया है, जिनकी सूची sha.punjab.gov.in पर देखी जा सकती है। डिप्टी कमिश्नर ने बताया कि एनएफएसए राशन कार्ड धारक, निर्माण कामगार, एसईसीसी लाभपातरी, छोटे व्यापारी, पत्रकार और जे -फार्म होल्डर किसान इस योजना अधीन योग्य हैं और लाभपातरी अपनी योग्यता sha.punjab.gov.in पर चैक कर सकते हैं। 

जबकि समूह पी.एम.जे.ए. परिवार (नीले कार्ड धारक परिवार) bis.pmjay.gov.in पर अपनी योग्यता चैक कर सकते हैं। उन्होनें आयुष्मान भारत सरबत स्वास्थ्य बीमा योजना अधीन आते लाभपातरियों को इस योजना अधीन अपना नाम दर्ज करवाने के लिए सरकारी स्वास्थ्य संस्थानों, सेवा केन्द्रों, सीएससी और प्रशासन की तरफ से लगाए जा रहे विशेष कैंपों में अपना आधार कार्ड साथ ले कर आने की अपील की।



Live TV

-->
Loading ...