Public buses in Delhi

दिल्ली में सार्वजनिक बसों में यात्रियों को सभी सीटों पर बिठाने की मिली मंजूरी

नयी दिल्लीः उपराज्यपाल अनिल बैजल ने यहां कोविड-19 के मामलों में वृद्धि के बावजूद बसों में सभी सीटों पर यात्रियों को बिठाने के दिल्ली सरकार के प्रस्ताव को मंजूरी दे दी है। कोरोना वायरस महामारी के चलते फिलहाल बसों में फिलहाल 20 सवारियों को ही चढऩे की इजाजत थी।

एक वरिष्ठ सरकारी अधिकारी ने बताया कि दिल्ली आपदा प्रबंधन प्राधिकरण (डीडीएमए) के अध्यक्ष बैजल ने अंतर-राज्यीय बस सेवाएं बहाल करने की भी मंजूरी दे दी और उसके लिए मानक संचालन प्रक्रिया की योजना पर काम चल रहा है एवं अगले सप्ताह से इस सेवा के बहाल होने की संभावना है। प्राधिकरण की 23 अक्टूबर को एक बैठक में डीटीसी और क्लस्टर बसों में यात्रियों की संख्या बढ़ाने का मुद्दा उठाया गया था। परिवहन मंत्री कैलाश गहलोत ने मांग की थी कि बसों में पूरी सीटें भरी हो परंतु किसी को खड़े होकर सफर करने की इजाजत न हो। डीटीसी और क्लस्टर बसों में 40-45 सीटें होती हैं। बसों में कम यात्रियों को चढऩे की इजाजत की वजह से स्टैंडों पर बड़ी भीड़ हेाती है।