Captain Amarinder Singh

नगर परिषदों के चुनाव में हार से बोखलाई भाजपा और आप चीखने-चिल्लाने लगीं : CM Captain

चंडीगढ़ : पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने भारतीय जनता पार्टी और आम आदमी पार्टी द्वारा नगर परिषदों के चुनावों में धाँधली के लगाए गए दोषों को चुनावों में नजऱ आती स्पष्ट हार से घबरा कर चीखने-चिल्लाने की मिसाल करार दिया है, जिनके नतीजे बुधवार को ऐलान किए जाएंगे।

मुख्यमंत्री ने कहा, ‘‘इन चुनावों में उनका निश्चित रूप से सफाया हो जाने की घबराहट भरी प्रतिक्रया है।’’ उन्होंने आगे कहा कि भाजपा, आप और शिरोमणि अकाली दल का इन म्यूंसिपल चुनावों में पूरी तरह सफाया होना तय है और इन चुनावों का नतीजा इन पार्टियों, जोकि पंजाब के लोगों का विश्वास और यकीन पूरी तरह गंवा चुकी हैं, की और भी बुरी हालत होने की गवाही देंगे। कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने कहा कि इन सभी पार्टियों ने मिलकर पंजाब को बर्बाद किया है और इसकी सबसे ताज़ा कड़ी काले कृषि कानून हैं, जोकि इनके लोक विरोधी और पंजाब विरोधी कार्यों की गवाही देते हैं। उन्होंने आगे कहा कि लोगों द्वारा पूर्ण तौर पर नकारे जाने के कारण इन पार्टियों की लीडरशिप को अपना अस्तित्व घतरे में नज़र आ रहा है, जोकि अपनी यकीनी तौर पर नाकामयाबी छिपाने के लिए बहाने बना रही हैं।

मुख्यमंत्री ने आगे कहा, ‘‘मेरी सरकार और मेरी पार्टी उस चुनाव को कमज़ोर करने की कोशिश क्यों करेगी, जिसको हम साफ़ तौर पर जीत रहे हैं।’’ उन्होंने विरोधी पार्टी को कोलाहल डालने की बजाय अपनी नीति और प्रोग्रामों की आलोचना करने की नसीहत दी। उन्होंने आगे कहा कि दिल्ली में गणतंत्र दिवस के मौके पर हुई हिंसा की तरह ही पंजाब में भी म्यूंसिपल चुनावों के दौरान हुई हिंसा की वारदातें भाजपा और आप द्वारा मिलीभुगत करके किसी भी तरह से यह मतदान जीतने की कोशिश की सूचक हैं।

भाजपा नेता तरून चुघ द्वारा की गई टिप्पणी कि पंजाब के लोग दहशत और डर में जी रहे हैं, पर करारा जवाब देते हुए कैप्टन अमरिन्दर सिंह ने कहा कि वास्तव में सभी देश के लोग ही ज़ालिम केंद्र सरकार के ख़ौफ़ के साए में जी रहे हैं, जिस केंद्र सरकार ने लोकतंत्रीय होने का नाटक तक करना बंद कर दिया है। उन्होंने यह भी कहा कि भाजपा के नेतृत्व वाली केंद्र सरकार इस हद तक तानाशाही रवैया इख्तियार कर चुकी है कि इसको सोशल मीडिया पर भी अपनी जऱा सी खि़लाफ़त बर्दाश्त नहीं है और यही कारण है कि केंद्र सरकार यह यकीन करने लग पड़ी है कि दूसरी पार्टियाँ भी सत्ता में आकर तानाशाही ढंग से सरकारें चला रही हैं। उन्होंने आगे बताया कि कांग्रेस ने हमेशा लोकतंत्र और नागरिकों की आज़ादी के कानूनी उसूलों पर पहरा दिया है और पंजाब और अन्य राज्यों, जहाँ इसकी सरकार है, में भी इन उसूलों की पालना करती रहेगी।




Live TV

-->
Loading ...