ticket for real Paswan in Bihar election

बिहार चुनाव में अजीबोगरीब किस्सा, असली पासवान का टिकट उड़ा ले गया बीजेपी का नेता

बिहार विधानसभा चुनाव के लिए आखिरी चरण के लिए आज अधिसूचना जारी हो गई हैं और नामांकन दाखिल करने के प्रतिक्रिया भी शुरु हो गई है। इस दौरान टिक्ट बंटवारे में कुछ अजीबो गरीब किस्से सामने आए है। दरअसल, भारतीय जनता पार्टी ने दूसरे फेज के लिए उम्मीदवारों की सूची जारी कर दी है। रोचक घटना यह रही कि नाम से चकमा देकर असली पासवान का टिकट भारतीय जनता पार्टी (बीजेपी) का नेता ले उड़ा। पार्टी ने समस्तीपुर जिला मंत्री वीरेंद्र कुमार पासवान को रोसड़ा सीट से टिकट दिया था। उम्मीदवारों की सूची सोशल मीडिया पर सामने आ गई थी, लेकिन बीजेपी के ही एक वीरेंद्र पासवान ने पार्टी नेताओं को चकमा दे दिया।

समस्तीपुर जिला मंत्री वीरेंद्र कुमार पासवान की टिकट लेने वाले वीरेंद्र पासवान के बारे में बताया जा रहा है कि वह दरभंगा के रहने वाले हैं। असली उम्मीदवार और इनका नाम मिलता-जुलता हुआ है। ऐसे में दरभंगा वाले वीरेंद्र ने इसका फायदा उठा लिया। वीरेंद्र पासवान पार्टी मुख्यालय में सिंबल लेने के लिए पहुंच गए। पटना बीजेपी मुख्यालय से दरभंगा वाले वीरेंद्र पासवान ने सिंबल ले लिए थे। सिंबल लेने के बाद वीरेंद्र पासवान ने उसमें अपने माता-पिता के नाम भर लिए थे। इसके साथ ही वह चंद समर्थकों के साथ रोसड़ा अनुमंडल मुख्यालय में नामांकन दाखिल करने पहुंच गए। 

इधर असली वाले वीरेंद्र कुमार पासवान अपने समर्थकों के साथ बीजेपी ऑफिस में सिंबल लेने पहुंचे, तब उनसे कहा गया कि आप तो सिंबल ले जा चुके हो। यह सुनकर वह आवाक रह गए। फिर रोसड़ा में बीजेपी कार्यकर्ताओं को अनुमंडल कार्यालय भेजा गया। वहां दरभंगा वाले वीरेंद्र कुमार पासवान नामांकन के लिए पहुंचे थे। कार्यकर्ताओं ने तुरंत इसकी जानकारी पटना में नेताओं को दी। उसके बाद उस सिंबल को रद्द किया गया। फिर असली वीरेंद्र कुमार पासवान को सिंबल दिया गया है। वह अब रोसड़ा सीट से नामांकन करेंगे।