cyber fraudsters, vaccination campaign, haryana news

टीकाकरण अभियान में साइबर जालसाजों से रहें सावधान, लोगों से ऐसे कर सकते ठगी

हरियाणा पुलिस ने कोविड-19 के लिए चल रहे टीकाकरण अभियान के मद्देनजर आम जन को साइबर जालसाजों से सावधान रहने का आग्रह किया है। ऐसे धोखेबाज कोरोना वायरस वैक्सीन लगाने के लिए रजिस्ट्रेशन का झांसा देकर लोगों से ठगी कर सकते हैं।

अतिरिक्त पुलिस महानिदेशक (कानून व्यवस्था) नवदीप सिंह विर्कने आज यहां इस संबंध में एडवाइजरी जारी करते हुए बताया कि ऑनलाइन ठगी या साइबर फ्रॉड करने वाले किसी भी स्थिति को भुनाने के लिए कोई भी नया तरीका अपना सकते हैं। ऐसे जालसाज नागरिकों को फोन कॉल, ईमेल व व्हाट्सएप सहित अन्य सोशल मीडिया एप्लिकेशन के माध्यम से धोखा दे सकते हैं। 

साइबर ठगी के तरीके का उल्लेख करते हुए उन्होंने बताया कि जालसाज कोरोना वैक्सीन की रजिस्ट्रेशन के नाम पर लोगों को फोन कॉल कर रहे हैं। इसके साथ ही, कोविड-19 वैक्सीन पंजीकरण के नाम पर संवेदनशील व्यक्तिगत जानकारी जैसे कि आधार नंबर, ईमेल आदि की भी मांग की जा रही है। साइबर जालसाज आधार नंबर को प्रमाणति करने के लिए ओटीपी साझा करने की बात भी कहते हैं। कॉल आने पर जैसे ही ओटीपी शेयर किया जाता है तो आधार-लिंक्ड बैंक खाते से पैसों की धोखाधडी हो जाती है।

विर्कने आम जन को सजगता के साथ सावधानी बरतने की अपील करते हुए कहा कि वे ’कोविड वैक्सीन पंजीकरण’ के लिए किसी भी फोन कॉल को अटैंड न करते हुए बैंक अकांउट, आधार कार्ड, एटीएम कार्ड सहित अन्य व्यक्तिगत जानकारी किसी के साथ साझा न करें। नागरिक साइबर ठगों से अलर्ट रहें तथा कोविड-19 टीकाकरण के लिए केवल सरकारी स्वास्थ्य विभाग द्वारा अनुमोदित या जारी किए गए मोबाइल एप्लिकेशन का ही उपयोग करें।



Live TV

Breaking News

Loading ...