CM Captain, reply to Haryana CM , farmers , MSP

कैप्टन का हरियाणा सीएम को जवाब- MSP पर किसानों को आश्वस्त होना है, मुझे नहीं

खेती कानूनों के खिलाफ पंजाब के किसान दिल्ली दी तरफ कूच कर रहे हैं। जिन्हें हरियाणा सरकार बॉर्डर क्रॉस नहीं करने दे रही लेकिन किसान भी पूरी जद्दोजहर कर दिल्ली कूच करने की तैयारा में हैं। वहीं किसानों के दिल्ली कूच पर हरियाणा सरकार और पंजाब सरकार के बीच ट्विटर पर वॉर छिड़ गई है। सीएम कट्टर लगातार ट्वीटर पर पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह पर किसानों को उकसाने का आरोप लगा रहे हैं, और कोरोना महामारी का हवाला देते हुए कह रहे हैं कि पंजाब सरकार इस वक्त किसानों को उकसा कर उनकी जान को खतरे में डाल रही है। 

वहीं पंजाब के मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंद सिंह ने मनोहर लाल खट्टर के आरोपों का ट्वीटर पर कारारा जवाब देते हुए कहा- कोरोना वायरस महामारी के दौरान जीवन को खतरे में डालने के लिए, क्या आप भूल गए हैं कि भाजापा की केंद्रीय सरकार ने महामारी के बीच उन #FarmLaws के माध्यम से धक्का किया है, जिन्हों इसके प्रभाव को नजर अंदाज किया कि किसानों पर इसका क्या असर पड़ सकता है? आपने तब क्यों नहीं बोले मनोहर लाल खट्टर जी ?

अपने अन्य ट्वीट में कैप्टन लिखते है कि - मैं आपकी प्रतिक्रिया पर चौंक गया खट्टर जी। यह किसान हैं जिन्हें एमएसपी पर आश्वस्त होना है, मुझे नहीं। आपको उनके #DilliChalo से पहले उनसे बात करने की कोशिश करनी चाहिए थी। और अगर आपको लगता है कि मैं किसानों को उकसा रहा हूं तो हरियाणा के किसान भी दिल्ली का रुख क्यों कर रहे हैं?

Loading ...