Child falls , save child

खेलते-खेलते नहर में गिरा बच्चा, मां और चाची ने बच्चे को बचाने के लिए लगाई छलांग

हरियाणा : जींद जिले के उपमंडल सफीदों के गांव अंटा में खेलते-खेलते एक बच्चा नहर में गिर गया। उसे बचाने के लिए मां और चाची कूदीं, लेकिन वे भी पानी के तेज बहाव में बह गईं। हादसा हांसी- बुटाना ब्रांच नहर में हुआ। SHO सदर संजय कुमार ने बताया कि गांव अंटा निवासी पिंकी (31) अपने बेटे आयुष (7) व देवरानी कविता (27) के साथ पानीपत रोड पर हांसी- बुटाना ब्रांच नहर के पास लकड़ियां इकट्ठा करने आई थी। आयुष नहर की पटरी पर खेलने लगा और पिंकी, कविता के साथ लकड़ियां बीनने में जुट गई। खेलते-खेलते आयुष नहर की तरफ चला गया और पैर फिसलने से नहर में जा गिरा। उसके चिल्लाने की आवाज सुनकर पिंकी-कविता दौड़ी आईं और नहर में कूद गई। लेकिन नहर में पानी का बहाव इतना तेज था कि तीनों पानी में समा गए। बचाओ-बचाओ की आवाज सुनकर राहगीर दौड़े आए। गाड़ियों की चेकिंग कर रही ट्रैफिक पुलिस भी मौके पर पहुंची। इस बीच एक शख्स को महिला का शरीर दिखाई दिया तो उसने एक ट्रक रुकवाकर उससे रस्सी लेकर पानी में फेंक दी। जिसे पकड़कर महिला बाहर आ गई। वह आयुष की मां पिंकी थी। काफी मशक्कत के बाद करीब 6 किलोमीटर आगे दोनों चाची-भतीजे को भी नहर से निकाल लिया गया। दोनों को गंभीर अवस्था में सफीदों के नागरिक अस्पताल ले जाया गया, जहां डॉक्टरों ने दोनों को मृत घोषित कर दिया। पुलिस ने दोनों के शवों का पोस्टमार्टम करवाकर परिजनों को सौंप दिया। इस मामले में SHO संजय कुमार ने बताया कि खेलते समय मासूम बच्चा नहर में गिर गया था। उसे बचाने के लिए मां और चाची ने भी नहर में छलांग लगा दी। मां को तो बचा लिया गया, लेकिन बच्चे और उसकी चाची को बचाया नहीं जा सका।



Live TV

Breaking News

Loading ...