China and Japan achieve

चीन और जापान ने 5 महत्वपूर्ण सहमतियां और 6 ठोस उपलब्धियां हासिल कीं

चीनी स्टेट कांसुलर, विदेश मंत्री वांग यी ने 24 नवंबर को कहा कि उन की जापान यात्रा के दौरान चीन जापान संबंध और समान रुचि वाले अंतर्राष्ट्रीय और क्षेत्रीय मुद्दों पर जापान के विदेश मंत्री मोतेगी तोशिमित्सु के साथ गहन रूप से संपर्क किया, जो 5 महत्वपूर्ण सहमतियां और 6 ठोस उपलब्धियां हासिल हुईं। स्थानीय समय के अनुसार 24 तारीख को टोक्यो में मोतेगी तोशिमित्सु के साथ संवाददाताओं से मिलने के समय वांग यी ने उक्त बात कही।
 वांग यी ने कहा कि अब कोविड-19 महामारी विश्व में फैल रही है। विभिन्न देशों को चुनौतियों का मुकाबला करने के लिए सहयोग को आगे बढ़ाना चाहिए। इस पृष्ठभूमि में मैंने इस बार की जापान यात्रा की। यह महामारी शुरू होने के बाद दोनों देशों के विदेश मंत्रियों के बीच पहली आमने-सामने आदान-प्रदान भी है, जो 5 महत्वपूर्ण सहमतियां और 6 ठोस उपलब्धियां हासिल हुईं।
  दोनों पक्ष इस पर सहमत हुए कि दोनों देशों के नेताओं की रणनीतिक नेतृत्व के अनुसार चीन जापान के बीच चार राजनीतिक दस्तावेजों के आधार पर आपसी विश्वास को आगे बढ़ाया जाए। एक साथ महामारी को रोकें और समय पर सूचना का आदान-प्रदान करें, चिकित्सा दवाओं में सहयोग को आगे बढ़ाएं। दोनों देशों की आर्थिक बहाली को आगे बढ़ाने के लिए सहयोग करें, अगले वर्ष नए चरण की चीन-जापान उच्च स्तरीय आर्थिक वार्ता करें। समान रूप से आरसीईपी समझौते को जल्द ही लागू करने के लिए प्रयास करें, सक्रिय रूप से चीन-जापान-दक्षिण कोरिया मुक्त व्यापार समझौते की वार्ता और क्षेत्रीय सहयोग प्रक्रिया को बढ़ावा दें। एक दूसरे के यहां में टोक्यो ओलंपिक और बीजिंग शीतकालीन ओलंपिक के आयोजन का समर्थन और सहयोग करें।
   दोनों देशों ने ये फैसले किए कि महामारी की रोकथाम और नियंत्रण करने की स्थिति में इस महीने में दोनों देशों के बीच आवश्यक कर्मियों के आदान-प्रदान के लिए "फास्ट चैनल" शुरू करें, चीन-जापान भोजन, कृषि और जलीय उत्पाद सहयोग के लिए एक अंतर-विभागीय परामर्श तंत्र स्थापित करें, दोनों देशों के बीच जलवायु परिवर्तन के नीतिगत परामर्श तंत्र स्थापित करें, 2022 में चीन और जापान के बीच राजनयिक संबंधों के सामान्यीकरण की 50वीं वर्षगांठ की तैयारी शुरू करें, अगले महीने चीन और जापान के बीच समुद्री मामलों पर नए चरण का उच्च-स्तरीय परामर्श आयोजित करें, इस वर्ष में दोनों देशों के रक्षा विभागों के बीच समुद्री और वायु संपर्क तंत्र के माध्यम से एक सीधी टेलीफोन लाइन खोलने का प्रयास करें।
(साभार---चाइना मीडिया ग्रुप ,पेइचिंग)

Loading ...