China protects

हर कीमत पर जनता के हितों की रक्षा करता है चीन

बाढ़, सूखा, महामारी और युद्ध, मानव जाति का इतिहास विभिन्न आपदाओं के साथ लड़ाई करने का इतिहास है। इस साल कोविड-19 महामारी अचानक फैलने लगी। दुनिया के सभी देश पूरी कोशिश से इस क्रूर वायरस से मुकाबला कर रहे हैं। महामारी की रोकथाम के दौरान चीन हमेशा जनता और जीवन को प्राथमिकता देता है। कोविड-19 से ग्रस्त मरीजों का इलाज करने के लिए चीन ने पूरे देश के सर्वश्रेष्ठ डॉक्टरों, सबसे आधुनिक चिकित्सा उपकरणों और सबसे आवश्यक सामग्री को एकत्र किया। इलाज का सारा खर्च सरकार ने ही वहन किया। शिशु से लेकर 100 साल के बुजुर्ग तक किसी को पीछे नहीं छोड़ा। 

एक 87 वर्षीय बुजुर्ग को बचाने के लिए कई चिकित्सकों ने लगातार 47 दिनों तक प्रयास किया। चीन के हुपेई प्रांत में 80 वर्ष से अधिक उम्र वाले 3,600 से ज्यादा मरीज इलाज के बाद निरोगी हो गये। जनता हजारों आम लोग हैं, लेकिन उनके प्रयासों से असाधारण उपलब्धियां हासिल हुईं। महामारी की रोकथाम में सभी चीनी लोगों ने एक साथ कोशिश की। बाहर जाते समय वे मास्क पहनते हैं, भीड़-भाड़ वाली जगह नहीं जाते हैं और घर लौटने के बाद अच्छे से रोगाणु नष्ट करते हैं। 

जनता के लिए चीन सरकार एक तरफ महामारी की सख्त रोकथाम करती है, दूसरी तरफ आर्थिक और सामाजिक व्यवस्था बहाल करने पर भी जोर दे रही है। इस साल की दूसरी तिमाही में चीन की आर्थिक वृद्धि नकारात्मक से सकारात्मक में बदली, पूरा चीन फिर से सक्रिय बना रहा। चीन सरकार ने 5जी नेटवर्क, डेटा सेंटर और स्मार्ट यातायात आदि नये बुनियादी संस्थापनों के निर्माण को तेज किया और ऑनलाइन शिक्षा, ऑनलाइन कार्यालय आदि नये व्यवसाय को बढ़ावा दिया। इससे आर्थिक विकास में नई उम्मीद जगाई।

उद्यमों और लोगों को लाभ पहुंचाने के लिए चीन सरकार ने सिलसिलेवार कदम उठाये, जैसा कि सामाजिक बीमा शुल्क और दुकानों का किराया कम या माफ किया गया, लोगों में बड़े पैमाने पर कूपन दिया गया। इन कदमों से अरबों चीनी लोगों ने लाभ उठाया। चीन सरकार लोगों के जीवन पर ध्यान देती है, क्योंकि आम लोगों के खाने-पीने, उनके सुख-दुःख से पूरे देश पर प्रभाव पड़ता है। महामारी निर्दयी है पर लोग दयालु हैं। चीन सरकार जनता और जीवन को प्राथमिकता देती है, तो लोगों से ज्यादा बदला लेगी। अंततः सुखमय जीवन बनाने के लिए अधिक सकारात्मक शक्ति इकट्ठा की जाएगी।