Li Khayang

चीन अविचल तौर पर खुलेपन का विस्तार करेगा : ली खछ्यांग

चीनी प्रधानमंत्री ली खछ्यांग ने 15 सितंबर को विश्व आर्थिक मंच के तहत वैश्विक उद्यमी वीडियो संवाद को संबोद्धित करते हुए कहा कि नये कोरोना वायरस महामारी से वैश्विक अर्थव्यवस्था खासकर अंतर्राष्ट्रीय व्यापार पर भारी प्रभाव पड़ा है। इसी स्थिति में तथाकथित डिकम्पलिंग करना अनुचित और व्यर्थ है। ली खछ्यांग ने कहा कि चीन की अर्थव्यवस्था का दुनिया में गहन रूप से एकीकरण हुआ है।

चीन का विकास दुनिया के बगैर नहीं हो सकता है, और दुनिया के विकास के लिए भी चीन की जरूरत है। चीन किसी भी स्थिति में अपने खुलेपन का विस्तार करेगा। ली ने यह भी कहा कि चीनी अर्थव्यवस्था स्थिर बनी हुई है और इस वर्ष में चीन में 70 लाख नए रोजगार मौके तैयार किए गए हैं। यदि स्थिति में बड़ा बदलाव नहीं होता है, तो इस साल चीनी अर्थव्यवस्था का सकारात्मक विकास प्राप्त होने की उम्मीद है। ली ने आगे कहा कि नये कोरोना वायरस महामारी से लघु, मध्यम और सूक्ष्म कारोबारों तथा व्यक्तिगत उद्यमियों को भारी नुकसान पहुंचा है। इनका समर्थन करने के लिए सरकार ने एक मुश्त सहायता योजना पेश की है। कारोबारों को बनाये रखने से रोजगार और भावी विकास की गारंटी की जाएगी।

ली खछ्यांग ने यह भी कहा कि विश्व के दायरे में आर्थिक मंदी का सामना करने और आर्थिक वसूली का लक्ष्य साकार करने में बहुत अनिश्चितता मौजूद है और समस्या का समाधान करने के लिए लंबा समय लगेगा। अंतर्राष्ट्रीय समुदाय को महामारी की रोकथाम और आर्थिक विकास को बढ़ावा देने में साथ-साथ काम करने की आवश्यकता है।