Covid Care Center

पठानकोटः कोविड केयर सेंटर बंद होने से छिना 130 लोगों का रोजगार, कर्मचारियों ने DC दफ्तर के पास किया रोष प्रदर्शन

पठानकोटः पंजाब सरकार की ओर से कोविड केयर सेंटर बंद करने की घोषणा के बाद 130 लोगों का रोजगार छिन गया है। वहीं सरकार ने अस्थाई कर्मचारियों का 2 महीने का वेतन भी जारी नहीं किया गया, जिसके चलते आज पठानकोट में उक्त कर्मचारियों ने डीसी दफ्तर के पास रोष प्रदर्शन किया और कैप्टन सरकार के खिलाफ नारेबाजी की। 

प्रदर्शनकारियों ने बताया कि चिंतपूर्णी अस्पताल में कोरोना मरीजों की देखभाल और इलाज के लिए 5 महीने पहले सरकार ने मेडिकल, पैरा मेडिकल, वालंटियर स्टाफ की भर्ती की थी। स्टाफ ने दिन रात कोरोना आइसोलेशन वार्डों में डयूटी की। अभी कोरोना की गति तेज हो रही है पर सरकार ने कर्मचारियों को निकाल दिया और सेंटर बंद कर दिए। उन्होंने कहा कि कोरोना संकट की घड़ी में उन्होंने फ्रंट लाइन पर सेवाएं दीं। उन्हें योग्यता के आधार पर  नियुक्त किया गया था, लेकिन अब जब लोगों को कोविड सेंटरों की सबसे ज्यादा जरूरत है तो सेंटर बंद कर कर्मचारियों को निकाल दिया गया। उन्होंने कहा कि घर-घर रोजगार का दावा करने वाली सरकार ने उनकी सेवाओं का यह इनाम दिया है। 

उन्होंने बताया कि सरकार ने मेडिकल, पैरा-मेडिकल और वालंटियरों की भर्ती निकाली है, इसलिए सरकार को चाहिए कि पहले से कार्यरत कर्मचारियों को जरूरत वाली जगह पर तैनात किया जाए। ताकि, सरकार की जरूरत पूरी हो और स्टाफ का रोजगार भी न छिने। उन्होंने कहा कि आज व डीसी दफ्तर मांग पत्र देने पहुंचे हैं और अगर हमारी सरकार ने सुनवाई नहीं कि तो सरकार के खिलाफ सड़कों पर उतर उग्र प्रदर्शन करेंगे।