jamun

बहुत फायदेमंद है जामुन की गुठली का सेवन, जानिए कैसे

आज हम एक ऐसे फ्रूट की बात करेंगे जो खाने में स्वादिष्ट तो है ही साथ ही में कई औषधीय गुणों से भरपुर भी है। जी हाँ, हम बात कर रहे हैं जामुन की। आपको बता दें के जामुन को 'इंडियन ब्लैकबेरी' के नाम से भी जाना जाता है। जामुन के सेवन से कई तरह की बीमारियां को दूर करने में फायदेमंद है। लेकिन क्या आप जानते हैं के जामुन की गुठली भी उतनी ही फ़ायदेमदं होती है।  इसी के साथ आज हम आपको बताएंगे जामुन की गुठली खाने के फायदे। 

डायबिटीज में फायदेमंद हैं जामुन के बीज: डायबिटीज के मरीजों के लिए जामुन और उसके बीज दोनों ही फायदेमंद हैं। आयुर्वेद के मुताबिक, जामुन का कसैला स्वाद बार-बार पेशाब आने की समस्या को कम करने में मदद करता है। साल 2017 में एशियन पैसिफिक जर्नल ऑफ ट्रॉपिकल बायोमेडिसिन में एक रिपोर्ट प्रकाशित हुई थी, जिसमें बताया गया था कि जामुन के बीज खून में ग्लूकोज के स्तर को कम करने और इंसुलिन के स्तर को नियंत्रित करने में मदद करते हैं।

पेट की समस्याओं में फायदेमंद है जामुन का बीज: जामुन के बीज पाचन से जुड़ी समस्याओं को दूर करने में मदद करते हैं। इसके पाउडर का नियमित रूप से सेवन करने से पेट साफ रहता है, जिससे कब्ज की दिक्कत नहीं होती। साथ ही जामुन के बीज डायरिया, पेचिस और आंत में अल्सर की समस्याओं को दूर करने में भी मददगार हैं।

ब्लड प्रेशर में भी कारगर है जामुन का बीज: हाई ब्लड प्रेशर (उच्च रक्तचाप) या हाइपरटेंशन की समस्या से पीड़ित लोगों के लिए जामुन का बीज किसी वरदान से कम नहीं है। दरअसल, इसमें इलाजिक एसिड नाम का फेनॉल एंटीऑक्सीडेंट पाया जाता है, जो ब्लड प्रेशर के स्तर में होने वाले उतार-चढ़ाव को रोकने में मदद करता है। साथ ही हाई ब्लड प्रेशर को भी नियंत्रित करने का काम करता है।

खून को साफ रखने में मदद करता है जामुन का बीज: जामुन का बीज खून को साफ करने में मदद करता है और शरीर से जहरीले पदार्थों का बाहर निकाल कर शरीर को साफ-सुथरा बनाता है। साथ ही यह खून की कमी से होने वाली बीमारी एनीमिया से भी बचाने में मदद करता है।