Delhi blast, Cab seen on the spot, CCTV footage

दिल्ली विस्फोट: जैश-उल हिंद नाम के संगठन ने ली धमाके की जिम्मेदारी

नई दिल्लीः दिल्ली में इजरायली दूतावास के बाहर बीते दिन IED ब्लास्ट हुआ जिसकी जिम्मेदारी जैश-उल हिंद नाम के संगठन ने ली है। इस संगठन ने दावा किया है कि उसने ही इजरायली दूतावास के सामने धमाका करवाया है। दिल्ली पुलिस की स्पेशल सेल को एक सीसीटीवी फुटेज मिला है, जिसमें दो लोगों को कार से बाहर निकलकर दूतावास की ओर आगे बढ़ते देखा जा रहा है। इजरायल से जांचकर्ताओं की एक टीम शनिवार यथाशीघ्र दिल्ली पहुंच सकते हैं, जिनके द्वारा इस ब्लास्ट के संदर्भ में भारतीय एजेंसियों की सहायता की जाएगी। इस घटना में दिल्ली के लुटियंस हाई सिक्योरिटी जोन में कुछ कारें क्षतिग्रस्त हुई हैं।

जिस गाड़ी से इन दो लोगों को दूतावास के पास छोड़ा गया था, उसके चालक का पता लगा लिया गया है और इन दो संदिग्धों के स्कैच बनाए जा रहे हैं। ब्लास्ट में इनकी संलिप्तता को सुनिश्चित करने के लिए जांच शुरू कर दी गई है। मौके से एक खत भी बरामद हुआ है, जिसमें लिखा हुआ है कि यह धमाका बस एक ‘ट्रेलर’ है।

सूत्रों ने बताया कि खत में ईरान के जनरल कासिम सुलेमानी और ईरान के वरिष्ठ परमाणु वैज्ञानिक मोहसिन फाखरीजादे का उल्लेख ‘शहीद’ के रूप में किया गया है। बीते साल इन दोनों की ही हत्या कर दी गई है। शुक्रवार को यह धमाका विजय चौक से 1.4 किलोमीटर की दूरी पर हुआ, जहां राष्ट्रपति, प्रधानमंत्री सहित सरकार के अन्य वरिष्ठ सदस्य बीटिंग रिट्रीट समारोह के लिए इकट्ठे हुए थे। राजधानी में एयरपोर्ट सहित और कई महत्वपूर्ण स्थानों पर चौकसी बढ़ा दी गई है।



Live TV

-->
Loading ...