शंख

देवदत्त शंख और अनंतविजय शंख को रखेंगे पास तो कभी नहीं आएंगे दुःख

1.देवदत्त शंख :

-यह शंख महाभारत में अर्जुन के पास था। वरुणदेव ने उन्हें यह गिफ्ट में दिया था।
- इसका उपयोग दुर्भाग्यनाशक माना गया है।
- माना जाता है कि इस शंख का उपयोग न्याय क्षेत्र में विजय दिलवाता है। न्यायिक क्षेत्र से जुड़े लोग इसकी पूजा कर लाभ प्राप्त कर सकते हैं।
- इस शंख को शक्ति का प्रतीक भी माना गया है।
ये 16 दैवीय शंख, देंगे धन, विजय और समृद्धि, जानिए

2. अनंतविजय शंख :

- युधिष्ठिर के शंख का नाम अनंतविजय था।
- अनंत विजय अर्थात अंतहीन जीत।
- इस शंख के होने से हर कार्य में विजय मिलती जाती है। * प्रत्येक क्षेत्र में विजय प्राप्त के लिए अनंतविजय नामक शंख मिलना दुर्लभ है।

Breaking News

Live TV

Loading ...