Yoga, asthma, health

नियमित 15-20 मिनट तक करें ये 5 योगासन, अस्थमा होगा जड़ से खत्म

आज कल के समय में बड़ों से लकर बच्चों तक में अस्थमे की बीमारी देखने को मिल रही है। अस्थमा फेंफड़ों से संबंधित बीमारी है, इस में छाती और गला संवेदनशील रहता है। जिन लोगों को अस्थामा की परेशानी होती है वे लोग धूल, धुवां या ज्यादा कोल्ड वातावरण बर्दाश्त नहीं कर सकता। ये बीमारी बेहद खतरनाक साबित हो सकती है। लोग इस समस्या से निजात पाने के लिए डॉक्टर्स का सहारा भी लेते हैं। लेकिन अगर आप साथ में नियमित 15-20 मिनट तक रोज योग करेंगे तो आप को अस्थमा से राहत मिलेगी। जी हाँ, यह बात रिसर्च में भी सामने आई है कि अस्थमा की परेशानी से योग करने से जल्द निजात मिलता है और अटैक धीरे धीरे कम हो कर खतम हो जाता है। इसी के साथ आपको बताते हैं की कौन से हैं वो योगासन -

Anulom Vilom: 'अनुलोम विलोम' करने से होंगे ये फायदे, यहां देखें कैसे करें  यह प्राणायाम know the benefits and step of anulom vilom yoga asana - फिटनेस  न्यूज़

* अनुलोम-विलोम :इस आसन को करने के लिए एक शांत स्थान पर सामान्य अवस्था में बैठ जाएं। उसके बाद अपने दाएं हाथ के अंगूठे से दाएं हाथ की नाक के छिद्र को बंद करें। अब बाएं नाक के छिद्र से सांस को अंदर की ओर लें और उसे अंगूठे के बगल वाली उंगलियो से बंद करें। अब दायीं नाक से अंगूठा हटाकर सांस को छोड़ें। ऐसा 4-5 बार करें। यह प्रक्रिया आप दोनों नाक से करें। यह आसन सांस की प्रक्रिया को सामान्य करता है, दिमाग शांत करता है, अनिद्रा से बचाता है, आंखों की रोशनी बढ़ाता है और मस्तिष्क संबंधी समस्या से भी मुक्ति दिलाता है।

कपालभाती प्राणायाम की विधि, सावधानियां और लाभ - Kapalbhati Pranayam Hindi

* कपालभाति :शांत वातावरण में आराम से बैठ जाये तथा साँस को अंदर करे और छोड़े, साँस लेते समय पेट को धक्का देते हुए साँस अंदर ले। इस आसन को प्रतिदिन करने से, वजन कम होता है, पेट की चर्बी कम होती है। चेहरे की झुर्रियां और आँखों के निचे का कालापन दूर होता है तथा चेहरे की चमक बढ़ती है। स्मरण शक्ति बढ़ती है और नकारात्मक तत्व दूर होते है।

मत्स्यासन: कब्ज दूर कर पाचन तंत्र को बेहतर करने का योगासन - Kids Portal For  Parents

* मत्स्यासन :इसमें आपको एक मछली की तरह से ही अपने शरीर की आकृति बनानी होती है, यह काफी आसान है और अस्थमा में बहुत ज्यादा लाभदायक भी। इस आसन का सबसे बड़ा लाभ यह है की इसको करने पर रोगी के गले पर खिंचाव बनता है जिसके कारण रोगी की थायराइड ग्रंथि और सांस की नली रोग मुक्त होती हैं और सांस लेने में परेशानियों का सामना नहीं करना होता है।

Removes Off Fatigue With Savasana - थकान मिटाने का बेजोड़ उपाय है शवासन - Amar  Ujala Hindi News Live

* शवासन :शवासन बहुत ही सरल योगासन है इसको हर आयु वर्ग के व्यक्ति कर सकते हैं। इसको करने से व्यक्ति का चित्त और शरीर बेहद तनाव मुक्त हो जाता हैं आर अगर आप तनावमुक्त रहेंगे तो आपका शरीर पहले से ज्यादा अच्छे से काम करेगा और चुस्त रहेगा।

Health Benefits Of Setu Bandhasana Bridge Pose - थायरॉएड की समस्या से निजात  पाने के लिए करें यह योगासन - Amar Ujala Hindi News Live

* ब्रिज पोज़ :यह योगासन यदि रोगी करता हैं तो इससे रोगी के फेफड़ों और सीने पर बहुत अच्छा प्रभाव पड़ता हैं, इससे रोगी के फेफड़े खुलते है और सीना चौड़ा होता हैं, अस्थमा से निजात मिलने में भी मददगार होता है। 



Live TV



Breaking News

Loading ...