Chinese apps

चीनी ऐप्स पर बैन को लेकर दूतावास की प्रवक्ता का जवाब

भारत स्थित चीनी दूतावास की प्रवक्ता ची रोंग ने भारत सरकार द्वारा चीनी मोबाइल ऐप्स पर हमेशा प्रतिबंध जारी रखे जाने संबंधी फैसले पर भारतीय मीडिया की रिपोर्ट पर जवाब दिया।  उन्होंने कहा कि पिछले वर्ष भारत ने कई बार तथाकथित देश की सुरक्षा की गारंटी के नाम पर चीनी ऐप्स पर प्रतिबंध लगाया।यह संबंधित कार्यवाहियां डब्ल्यूटीओ के गैर-भेदभावपूर्ण सिद्धांतों और बाजार अर्थव्यवस्था में निष्पक्ष प्रतिस्पर्धा के सिद्धांतों का उल्लंघन करती हैं, चीनी कंपनियों के वैध अधिकारों और हितों को गंभीर रूप से नुकसान पहुंचाती हैं। चीन इसका कड़ा विरोध करता है।

चीन सरकार ने हमेशा चीनी उद्यमों से अंतर्राष्ट्रीय नियमों और स्थानीय कानूनों और नियमों का पालन करने के आधार पर विदेशों के साथ सहयोग करने की मांग की है। भारत सरकार पर डब्ल्यूटीओ के नियमों और बाजार सिद्धांतों के अनुसार चीनी कंपनियों समेत अंतर्राष्ट्रीय निवेशकों के वैध अधिकारों और हितों की रक्षा करने की जिम्मेदारी है। चीन और भारत के बीच आर्थिक और व्यापारिक सहयोग का सार आपसी लाभ वाली समान जीत है। हम भारत से तुरंत ही इस भेदभावपूर्ण कार्यवाही को ठीक करने का आग्रह करते हैं, ताकि दोनों पक्षों के बीच सहयोग को अधिक नुकसान पहुँचाने से बचा जा सके।
(साभार---चाइना मीडिया ग्रुप ,पेइचिंग)



Live TV

-->
Loading ...