Ind vs Eng

Breaking: Ind vs Eng : तीसरे टी-20 मैच में इंग्लैंड ने भारत को 8 विकेट से हराया

अहमदाबाद: मार्क वुड की अगुआई में गेंदबाजों के उम्दा प्रदर्शन के बाद सलामी बल्लेबाज जोस बटलर के तूफानी अर्धशतक से इंग्लैंड ने तीसरे टी20 अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट मैच में भारत को आठ विकेट से हराकर पांच मैचों की श्रृंखला में 2-1 की बढ़त बनाई।

भारत ने कप्तान विराट कोहली (46 गेंद में नाबाद 77, आठ चौके, चार छक्के) की दमदार पारी की बदौलत छह विकेट पर 156 रन बनाए जिसके जवाब में इंग्लैंड ने बटलर (52 गेंद में नाबाद 83 रन, पांच चौके, चार छक्के) की टी20 अंतरराष्ट्रीय क्रिकेट की सर्वश्रेष्ठ पारी से 18.2 ओवर में दो विकेट पर 158 रन बनाकर आसान जीत दर्ज की।

बटलर ने डेविड मलान (18) के साथ दूसरे विकेट के लिए 58 और जॉनी बेयरस्टॉ (28 गेंद में नाबाद 40, पांच चौके) के साथ तीसरे विकेट के लिए 77 रन की अटूट साझेदारी भी की।

इंग्लैंड की ओर से मार्क वुड (31 रन पर तीन विकेट) और क्रिस जोर्डन (35 रन पर दो विकेट) ने भारत के शीर्ष क्रम के बल्लेबाजों को काफी परेशान किया।

लक्षय़ का पीछा करने उतरे इंग्लैंड ने सतर्क शुरुआत की। जेसन रॉय (09) ने भुवनेश्वर कुमार के पारी के तीसरे ओवर में लगातार दो चौके मारे।

बटलर ने युजवेंद्र चहल (41 रन पर एक विकेट) का स्वागत छक्के के साथ किया लेकिन रॉय ने इस लेग स्पिनर की गेंद पर रिवर्स स्वीप खेलने की कोशिश में प्वाइंट पर रोहित शर्मा को कैच थमा दिया। बटलर ने हालांकि इसी ओवर में एक और छक्का मारा।

बटलर ने शारदुल ठाकुर के ओवर में दो चौके और छक्का जड़ने के बाद अगले ओवर में चहल पर भी दो चौके मारे।

इंग्लैंड की टीम पावर प्ले में एक विकेट पर 57 रन बनाने में सफल रही।

बटलर ने हाíदक पंड्या की गेंद पर एक रन के साथ 26 गेंद में अर्धशतक पूरा किया। 

वाशिंगटन सुंदर (26 रन पर एक विकेट) ने मलान को ऋषभ पंत के हाथों स्टंप कराके बटलर के साथ उनकी 58 रन की साझेदारी का अंत किया।

बटलर ने चहल पर चौके के साथ 12वें ओवर में टीम के रनों का शतक पूरा किया और फिर सुंदर पर अपना चौथा छक्का जड़ा।

बटलर 76 रन के स्कोर पर भाग्यशाली रहे जब चहल की गेंद पर कोहली ने प्वाइंट पर उनका आसान कैच टपका दिया।

इंग्लैंड को अंतिम पांच ओवर में जीत के लिए 30 रन की दरकार थी और इस बार चहल ने शारदुल की गेंद पर बेयरस्टॉ का कैच टपकाकर भारत की वापसी की किसी भी उम्मीद पर पानी फेर दिया। बेयरस्टॉ ने शारदुल पर लगातार दो चौकों के साथ इंग्लैंड को जीत दिलाई।

इससे पहले भारतीय टीम 15 ओवर में 87 रन पर पांच विकेट गंवाने के बाद मुश्किल में थी लेकिन कोहली और हाíदक पंड्या (17) की पारियों की बदौलत टीम अंतिम पांच ओवर में 69 रन जोड़ने में सफल रही। दोनों ने छठे विकेट के लिए 70 रन की तेजतर्रार साझेदारी की। ऋषभ पंत ने भी 25 रन का योगदान दिया। इंग्लैंड के कप्तान इयोन मोर्गन ने पहले गेंदबाजी करने का फैसला किया। जोफ्रा आर्चर के दूसरे ओवर की पहली ही गेंद पर रोहित शर्मा भाग्यशाली रहे जब इस तेज गेंदबाज ने अपनी ही गेंद पर उनका कैच टपका दिया।

पहले दो मैचों में सिर्फ एक रन बनाने वाले लोकेश राहुल एक बार फिर नाकाम रहे और खाता खोले बिना वुड की गेंद पर बोल्ड हो गए।

पारी का पहला चौका चौथे ओवर में लगा जब आर्चर की गेंद रोहित के बल्ले का किनारा लेकर चार रन के लिए चली गई। रोहित ने वुड के अगले ओवर में चौका भी जड़ा लेकिन इसी तेज गेंदबाज की गेंद पर शॉर्ट फाइन लेग पर आर्चर को आसान कैच दे बैठे। उन्होंने 15 रन बनाए।

कोहली ने वुड पर चौके के साथ खाता खोला लेकिन पिछले मैच में अर्धशतक जड़कर टीम की जीत में अहम भूमिका निभाने वाले इशान किशन चार रन बनाने के बाद जोर्डन की गेंद को हवा में लहरा गए और विकेटकीपर जोस बटलर ने आसान कैच लपका।

भारतीय टीम पावर प्ले में तीन विकेट पर 24 रन ही बना सकी।

पंत ने बेन स्टोक्स पर चौके के साथ खाता और फिर आदिल राशिद पर लगातार दो चौकों के साथ 10वें ओवर में टीम का स्कोर 50 रन के पार पहुंचाया।

पंत हालांकि कोहली के कहने पर सैम कुरेन की गेंद पर तीसरा रन लेने की कोशिश में रन आउट हो गए। 

श्रेयस अय्यर (09) ने कुरेन पर चौके से खाता खोला लेकिन वुड की गेंद पर बाउंड्री पर डेविड मलान को कैच दे बैठे जिससे 15वें ओवर में टीम का स्कोर पांच विकेट पर 86 रन हो गया।

कोहली ने 16वें ओवर में आर्चर पर चौके और छक्के के साथ रन गति में इजाफा करने का प्रयास किया। इसी ओवर में भारत के रनों का शतक पूरा हुआ।

कोहली ने अगले ओवर में जोर्डन पर छक्के और चौके के साथ 37 गेंद में 27वां अर्धशतक पूरा किया और फिर वुड को निशाना बनाते हुए उन पर लगातार दो छक्के और एक चौका मारा। पंड्या ने भी अगले ओवर में आर्चर पर छक्का जड़ा जबकि कोहली ने भी गेंद को बाउंड्री के दर्शन कराए। 

इससे पहले भारतीय क्रिकेट बोर्ड (बीसीसीआई) ने कोरोना वायरस के बढ़ते मामलों के कारण राज्य और स्थानीय अधकारियों के साथ चर्चा के बाद सीमित ओवरों के चरण के बाकी सभी मैचों को स्टेडियम में दर्शकों की गैरमौजूदगी में कराने का फैसला किया। 



Live TV

-->
Loading ...