England break

India के खिलाफ England ने अपने 87 साल पुराने रिकॉर्ड को तोड़ा, Chennai में मेहमान टीम की चौथी जीत

नई दिल्ली, चेन्नई के चेपाक स्टेडियम में खेले गए पहले टेस्ट मैच में इंग्लैंड ने भारत को 227 रन से हरा दिया। इस जीत के साथ ही उसने 4 मैचों की सीरीज में 1-0 से बढ़त हासिल कर ली। इंग्लैंड ने इस जीत के साथ कई रिकॉर्ड भी अपने नाम कर लिए हैं। उसने चेन्नई में भारत को सबसे बड़े अंतर से हराने का नया रिकॉर्ड भी बना दिया है। 87 साल पुराना यह रिकॉर्ड इंग्लैंड के ही नाम था। उसने 1934 में 10 से 14 फरवरी तक खेले गए टेस्ट मैच में भारत को 202 रन से हराया था। भारत और इंग्लैंड के बीच चेन्नई में 5 से 9 फरवरी तक पहला टेस्ट मैच खेला गया। इंग्लैंड ने पहली पारी में 578 और दूसरी पारी में 178 रन का स्कोर बनाया। भारतीय टीम दोनों ही पारियों में उम्मीद के अनुरूप बैटिंग नहीं कर सकी और 227 रन से मैच हार गई। भारत ने अपनी पहली पारी में 337 और दूसरी पारी में 192 रन बनाए। इस मैच में सबसे बड़ा स्कोर इंग्लैंड के कप्तान जो रूट (218) ने बनाया। जैक लीच ने इंग्लैंड की ओर से सबसे अधिक विकेट झटके। चेन्नई के एमए चिदंबरम स्टेडियम में अब तक 33 टेस्ट मैच खेले हैं। भारत ने इनमें से 14 मैच जीते हैं और 7 में उसे हार का सामना करना पड़ा है। भारत जिन 7 मैचों में यहां हारा है, उनमें से 4 में उसके सामने इंग्लैंड की टीम थी। ऑस्ट्रेलिया, पाकिस्तान और वेस्टइंडीज ने भी यहां भारत को एक-एक बार हराया है। चेन्नई में पहला टेस्ट मैच 1934 में भारत और इंग्लैंड के बीच खेला गया था। इंग्लैंड ने यह मैच 202 रन से जीता था। यह 8 फरवरी 2021 तक किसी भी विदेशी टीम की चेन्नई में सबसे बड़ी जीत थी। इंग्लैंड ने अब अपना ही रिकॉर्ड सुधार लिया है। अब चेन्नई में भारत की सबसे बड़ी शिकस्त का अंतर 227 रन हो गया है।



Live TV

-->
Loading ...