lipstick

अब लिपस्टिक नहीं Eye Makeup का है ट्रेंड

इन दिनों कोरोना वायरस के चलते लोग मास्क पेहन रहे हैं जिसके चलते लडककियाँ मेकअप का ज्यादा प्रयोग नहीं कर पा रही। खासतौर पर मास्क के लगाने की वजह से लिपस्टिक्स का ट्रेंड ख़त्म हो रहा है। परन्तु अब लड़कियां लिपस्टिक को न लगाते हुए अपनी आँखों की तरफ ज्यादा ध्यान देने लगी हैं। ऑय मेकअप का लड़कियां ज्यादा इस्तेमाल कर रही जिससे उनकी लुक में लिपस्टिक की कमी का कोई असर नहीं पड़ता। 

Top Spring & Summer Makeup Trends - YouTube

आई मेकअप की बढ़ी मांग: कंज्यूमर के बिहेवियर को ध्यान में रखते हुए कॉस्मेटिक बनाने वाली कंपनियां अब काजल, आई शेडो, आई लाइनर जैसे प्रोडक्ट के निर्माण को बढ़ावा दे रही है। कंपनियों का कहना है कि कोरोना के बाद हालात सामान्य होने पर भी लोग मास्क पहनना जारी रखेंगे। जिसकी वजह से लिपस्टिक की उपयोगिता कम हो जाएगी। यही वजह है कि कंपनियां आई मेकअप प्रोडक्ट्स पर फोकस कर रही हैं।

पर्सनल केयर प्रोडक्ट : वहीं जानकारों का मानना है कि लिपस्टिक का इस्तेमाल चाहे कम हुआ हो लेकिन लोग पर्सनल केयर प्रोडक्ट जैसे लिप बॉम और स्किन केयर पर ज्यादा पैसे खर्च करेंगे।

How to make ANY lipstick MATTE | AlexandrasGirlyTalk - YouTube

गिरी लिपस्टिक की रेटिंग : ब्यूटी प्राॅडक्टस की कंपनी 'नायका' के रिटेलर ने बताया कि आंखों के मेकअप के उत्पाद में नंबर पांच पर रहने वाला आईशैडो अब तीन पर आ गया है। क्योंकि ब्यूटी प्राॅडक्टस का 36 फीसदी हिस्सा इस समय आंखों के  मेकअप का है जबकि लिपस्टिक का हिस्सा 32 फीसदी है।