new Delhi

किसानों ने मीटिंग में नहीं सुनी मंत्रियों की बात, केंद्र को सौंपा 10 पन्नों का एजेंडा

नई दिल्लीः नए कृषि कानूनों के खिलाफ विज्ञान भवन में चल रही किसानों और मंत्रियों की पहले राउंड की बैठक समाप्त हो गई है। मीटिंग में किसान जत्थेबंदी मंत्रियों पर भारी पड़ गए। उन्होंने मंत्रियों की एक बात न सुनी और 10 पन्नों का एजेंडा केंद्र को सौंप दिया। फिलहाल किसान बाहर आ गए हैं। लंच के बाद मीटिंग फिर शुरू होगी। 

बता दें कि, पंजाब और हरियाणा के अंदरूनी इलाकों से आए हजारों किसान दिल्ली की सीमाओं पर 26 नवंबर से विरोध प्रदर्शन पर बैठे हैं। वे हरियाणा की सिंघु, टिकरी सीमा और उत्तर प्रदेश की गाजीपुर और चिल्ला सीमाओं पर डेरा डाले हुए हैं। विरोध प्रदर्शन का आज 8वां दिन है और किसान नेताओं ने एक बार फिर अपनी मांगों को दोहराया है। 

Loading ...