Filmmaker hansal mehta, jagannath rath yatra 2020

जगन्नाथ रथ यात्रा को लेकर तंज कसना फिल्ममेकर हंसल मेहता को पड़ा महंगा, ट्रोलर्स ने लगाई क्लास

हर बार की तरह इस साल भी जगन्नाथ रथयात्रा की शुरुआत हो चुकी है, लेकिन कोरोना वायरस के कारण इसमें ज्यादा लोगों को शामिल होने की इजाजत नही है। मंगलवार को सुप्रीम कोर्ट की इजाजत के बाद शुरु हुई जगन्नाथ रथयात्रा पहले दिन भगवान जगन्नाथ, बलभद्र और सुभद्रा के रथ गुंडिचा मंदिर पहुंच गए हैं। लेकिन इस रथयात्रा से फिल्ममेकर हंसल मेहता नाखुश नजर आ रहे हैं।

हंसल मेहता ने रथयात्रा को लेकर कसा तंज ...

जिसके चलते फिल्ममेकर हंसल मेहता ने रथयात्रा को लेकर तंज कसते हुए कहा कि तबलीगी जमात अपने अतीत से कभी नहीं सीखेगी। हंसल मेहता के इस ट्वीट पर फिल्म निर्देशक अनुभव सिन्हा ने भी लिखा-बयान को साफ करें।

यूजर्स कर रहें ट्रोल ...

हालांकि, हंसल मेहता को रथयात्रा को लेकर तंज कसना महंगा पड़ गया। इस कारण ट्विटर यूजर्स उनको ट्रोल करने लगे, एक यूजर ने लिखा, पूरी शहर में कर्फ्यू लगा है। किसी भी बाहरी को आने की इजाजत नहीं है। और जो लोग रथयात्रा में शामिल हुए हैं, उनका कोरोना टेस्ट हुआ है और सभी की रिपोर्ट निगेटिव है। कोई भी नियम नहीं तोड़ा गया है। यह इवेंट सभी के सामने हुआ है ना कि छिपा कर।

वहीं एक ने लिखा, मैं मुस्लिम हूं और उड़िया भी हूं। तो मुझे मेरी सरकार के बारे में पता है। उन्हीं लोगों को इसके लिए इजाजत दी गई है जिनकी कोरोना रिपोर्ट निगेटिव आई है। एक ने लिखा, कम से कम मास्क है, और कोई भी हिंदू किसी भी धार्मिक स्थानों पर थूकते नहीं हैं। शर्मा आनी चाहिए एक हिंदू होकर ऐसी बात कर रहे।