China

चीन-यूरोप फोरम के संस्थापक ने चीन के महामारी के मुकाबले के कदमों की प्रशंसा की

वर्तमान में चीन में महामारी की रोकथाम व नियंत्रण की स्थिति बेहतर हो रही है। चीन महामारी के मुकाबले में अंतरराष्ट्रीय सहयोग बढ़ाते हुए विश्व के विभिन्न देशों के साथ चीन के अनुभवों को साझा करता है। इसके प्रति चीन-यूरोप फोरम के संस्थापक यानी अंतर्राष्ट्रीय मुद्दों के फ्रांसीसी विशेषज्ञ डेविड गोसेट ने प्रशंसा की।

डेविड गोसेट ने सीएमजी से साक्षात्कार में कहा कि चीन सरकार ने महामारी के खिलाफ़ लड़ाई में बड़ा योगदान दिया और महामारी के मुकाबले के दौरान चीन की सरकार व जनता की अथक कोशिश की प्रशंसा की। उन्होंने कहा कि घरेलू महामारी को प्रभावी रूप से नियंत्रित करने के बाद चीन ने अंतरराष्ट्रीय सहयोग बढ़ाते हुए कई देशों को सहायता दी, जो अंतरराष्ट्रीय सहयोग का आदर्श बन गया।

फिलहाल, अंतरराष्ट्रीय समुदाय कोविड-19 से निपटने के लिए हर संभव प्रयास कर रहा है, लेकिन अमेरिका ने मौके पर चीन को कसूरवार किया। डेविड गोसेट ने चीन के खिलाफ बदनाम करने के लिए अमेरिका की निंदा की। उन्होंने कहा कि नया कोरोनोवायरस एक पूरी तरह नया वायरस है और हमें इसे समझने के लिए एक प्रक्रिया की आवश्यकता है। 

चीन डब्ल्यूएचओ और संबंधित देशों व क्षेत्रों को महामारी संबंधी सूचना देने की प्रक्रिया में हमेशा समय पर, खुलेपन और पारदर्शिता के सिद्धांतों पर कायम रहता है, जैसे कि पहले समय पर दुनिया के साथ नए कोरोनोवायरस के जीन अनुक्रम को साझा करना, और समय पर डब्ल्यूएचओ को महामारी की स्थिति को रिपोर्ट करना हैं, ताकि दुनिया भर के देश जल्द से जल्द कोविड-19 की समझ कर सकें। यदि कुछ देशों में महामारी का मुकाबला कमजोर है, तो कारण यह है कि इन देशों ने शुरुआत से महामारी के मुकाबले के लिए तैयारी नहीं की।

( साभार- चाइना मीडिया ग्रुप, पेइचिंग )