Four terrorists killed

Jammu-Kashmir के कुलगाम और पुलवामा जिलों में सुरक्षा बलों के साथ हुई मुठभेड़ में चार आंतकी ढेर

श्रीनगर, जम्मू-कश्मीर के कुलगाम और पुलवामा जिलों में सुरक्षा बलों के साथ मुठभेड़ की दो अलग-अलग घटनाओं में शनिवार को जैश-ए-मोहम्मद और लश्कर-ए-तैयबा संगठनों के चार आतंकवादी मारे गये। मारे गए आतंकियों में एक शीर्ष कमांडर भी शामिल था। पुलिस ने यह जानकारी दी। पुलिस के एक अधिकारी ने बताया कि सुरक्षा बलों को दक्षिण कश्मीर में कुलगाम जिले के चिनगाम इलाके में आतंकवादियों की मौजूदगी की खुफिया जानकारी मिली थी, जिसके बाद बलों ने शुक्रवार देर रात इस इलाके को घेर लिया और तलाशी अभियान शुरू किया। उन्होंने बताया कि तलाशी अभियान के दौरान आतंकवादियों ने सुरक्षा बलों पर गोलीबारी की, जिसके बाद दोनों पक्षों के बीच मुठभेड़ शुरू हो गयी। अधिकारी ने बताया कि मुठभेड़ में दो आतंकवादियों की मौत हो गयी। 

उन्होंने बताया कि मारे गये आतंकियों की पहचान जंगलपुरा दिवसार कुलगाम निवासी तारिक अहमद मीर और पाकिस्तानी नागरिक समीर भाई उर्फ उस्मान के तौर पर की गयी है। पाकिस्तान के पंजाब का रहने वाला उस्मान ‘ए’ श्रेणी का आतंकवादी था। अधिकारी के अनुसार, दोनों आतंकवादी जैश-ए-मोहम्मद से जुड़े थे।अधिकारी ने बताया, ‘‘पुलिस रिकॉर्ड के अनुसार दोनों मारे गये आतंकवादी आतंकी हमलों को अंजाम देने के लिए जिम्मेदार समूहों का हिस्सा थे। वे कई आतंकी वारदातों तथा नागरिकों की हत्या में शामिल थे। इनमें फुराह मीरबाजार में पुलिस अधिकारी खुर्शीद अहमद की हत्या और अखरान मीरबाजार में सरपंच आरिफ अहमद पर हमला शामिल है। हमले में अहमद गंभीर रूप से घायल हो गये थे।’’ सेना के एक अधिकारी ने बताया कि मुठभेड़ स्थल से एक एम4 राइफल और एक पिस्तौल जब्त की गयी हैं।पुलिस ने बताया कि दक्षिण कश्मीर में पुलवामा जिले के दादूरा इलाके में एक अन्य अभियान में दो आतंकवादी मारे गये।

पुलिस ने बताया कि सुरक्षा बलों ने आतंकियों की मौजूदगी की सूचना मिलने के बाद इलाके में घेराबंदी और तलाशी अभियान शुरू किया जिसके बाद मुठभेड़ शुरू हो गयी। उन्होंने बताया कि मारे गए दोनों आतंकवादी लश्कर से जुड़े थे और इनमें से एक जाहिद नजीर भट उर्फ जाहिद टाइगर संगठन का शीर्ष कमांडर था। पुलिस ने बताया कि मुठभेड़ स्थल से दो एके राइफल बरामद की गयी हैं।