Free bus travel, Punjab Cabinet, Chief Minister Captain Amarinder Singh

पंजाब में महिलाएं आज से करेंगी सरकारी बसों में मुफ्त यात्रा, जानें ये जरूरी बातें

चंडीगढ़: पंजाब मंत्रिमंडल ने महिलाओं को 1 अप्रैल से सरकारी बसों में मुफ्त यात्रा करने को बुधवार को मंजूरी दे दी है। मुख्यमंत्री कैप्टन अमरिंदर सिंह की अध्यक्षता में हुई मंत्रिमंडल की बैठक में यह निर्णय लिया गया। मुख्यमंत्री ने गत 5 मार्च को विधानसभा में महिलाओं को नि:शुल्क बस यात्रा स्कीम का ऐलान किया था। इस स्कीम का फायदा राज्य भर में 1.31 करोड़ महिलाओं को होगा।

जनगणना 2011 के अनुसार पंजाब की कुल जनसंख्या 2.77 करोड़ है, जिसमें 1,46,39,465 पुरुष और 1,31,03,873 महिलाएं हैं। स्कीम से न सिर्फ रोजमर्रा की ट्रांसपोर्ट महंगी होने के कारण लड़कियों की स्कूल छोड़ने के अनुपात को घटाने में मदद मिलेगी, बल्कि कामकाजी महिलाओं को भी सुविधा मिलेगी, जो रोजमर्रा के अपने काम पर जाने के लिए काफी दूरी का सफर तय करती हैं।

फ्री सफर के लिए जरूरी बातेंः-
- पंजाब की निवासी महिलाएं सरकारी बसों में मुफ्त सफर कर सकेंगी, जिसमें पैप्सू रोड ट्रांसपोर्ट कारपोरेशन(पीआरटीसी), पंजाब रोडवेज बस (पनबस) और स्थानीय सरकार द्वारा चलाई जाने वाली सिटी बस सर्विसड शामिल हैं।
- यह स्कीम सरकारी एसी बसों, वोलवो बसों और एचवीएसी बसों में लागू नहीं होगी।
- इस स्कीम का फायदा लेने के लिए पंजाब की रिहायश के सबूत के तौर पर आधार कार्ड, वोटर कार्ड या कोई अन्य सबूत का दस्तावेज अपेक्षित होगा।
पंजाब सरकार के कर्मचारी जो चंडीगढ़ में रहते हैं, उनके पारिवारिक सदस्य महिलाएं या चंडीगढ़ में रहने वाली पंजाब सरकार की कर्मचारी महिलाएं भी इस सुविधा का फायदा ले सकती हैं। वह चाहे किसी भी उम्र वर्ग, आमदन मापदंड के दायरे में आती हों। 



Live TV

-->
Loading ...