Glass Bridge

भारत के इस राज्य में बना Glass Bridge, चीन की तर्ज पर किया गया तैयार

बिहार में स्थित राजगीर पर्यटकों के बीच काफी पसंदीदा जगह है। यहां घूमने के लिए विदेशों से भी लोग आते हैं। भारतीय इतिहास को अपने में समेटे हुए ये शहर पूरे राज्य में आकर्षण का केंद्र है। राजगीर नए साल में बिहार वासियों को एक नई सौगात देने वाला है। बता दें कि बिहार के राजगीर में ग्लास ब्रिज बन कर तैयार हो चुका है। बिहार में बना ये ग्लास स्काईवॉक ब्रिज नेचर एडवेंचर को बढ़ावा देगा।


पूर्वोत्तर भारत में यह पहला ग्लाज ब्रिज है, जिसे बिहार सरकार के द्वारा पर्यटकों के लिए तैयार कराया गया है। चीन के हांगझोऊ प्रांत में बने कांच के पुल की तर्ज पर ही राजगीर में भी ग्लास स्काईवॉक ब्रिज को तैयार किया गया है। इस पुल पर चलते हुए आप अपने कदमों के नीचे की धरती को भी आसानी से देख पाएंगे।

India's second Glass Bridge is being built in Rajgir, Bihar

राजगीर में बना पार्क पूर्वोत्तर भारत का सबसे अत्याधुनिक जू सफारी पार्क होगा जहां  तरह-तरह के जीव जंतु होंगे। राजगीर में बने जू सफारी को सेंट्रल जू अथॉरिटी ने भी मान्यता दे दी है। नए साल यानी 2021 में इसे आम जनता के लिए खोला जा सकता है।

Android पर Dainik Savera App डाउनलॉड करें

बता दें कि चीन में बने पहले ग्लास स्काईवॉक ब्रिज को जब 20 अगस्त 2016 को आम लोगों के लिए खोला गया था, तो यह उस वक्त दुनिया का सबसे लंबा और सबसे ऊंचा कांच का पुल था। इस पुल की कुल लंबाई में 430 मीटर और चौड़ाई 6 मीटर, और यह जमीन से लगभग 300 मीटर की ऊंचाई पर है।

Iphone पर  Dainik Savera App डाउनलॉड करें

Breaking News

Live TV

Loading ...