Sumedh Saini

मुल्तानी केसः जमानत याचिका खारिज होने के बाद सुमेध सैनी अभी भी पुलिस की गिरफ्त से बाहर

चंडीगढ़ः चंडीगढ़ सिटको के जेई बलवंत सिंह मुल्तानी से संबंधित 29 साल पुराने केस में पूर्व डीजीपी सुमेध सिंह सैनी की मुश्किलें बढ़ती ही जा रही है। दरअसल, मोहाली सेशन कोर्ट ने सुमेध सैनी को बड़ा झटका देते हुए उनकी जमानत याचिका खारिज कर दी है। वहीं जमानत याचिका खारिज होने के बाद सुमेध सैनी अभी भी पुलिस की गिरफ्त से बाहर है। बता दें कि सूबे से बाहर केस का ट्रायल चलाने पर आज हाईकोर्ट में सुनवाई होगी। 

क्या है बलवंत सिंह मुल्तानी केस
पूर्व डीजीपी सुमेध सिंह सैनी, यूटी पुलिस के एक रिटायर्ड एसपी बलदेव सिंह, दिवंगत डीएसपी सतबीर सिंह, रिटायर्ड इंस्पेक्टर हरसहाय, अनोख सिंह, जगीर सिंह और अन्यों के खिलाफ मटौर पुलिस थाने में अपहरण और अन्य धाराओं के तहत 6 मई को मामला दर्ज किया गया था। यह मामला तब का है जब सुमेध सिंह सैनी चंडीगढ़ के एसएसपी थे। 1991 में बलवंत सिंह मुल्तानी को चंडीगढ़ में सैनी पर हुए आतंकी हमले के बाद गिरफ्तार किया गया था। इस हमले में सैनी की सुरक्षा में तैनात 4 पुलिसकर्मी मारे गए थे।