China Agricultural

13वीं पंचवर्षीय योजना अवधि में चीन के कृषि और ग्रामीण मामलों के विकास क्षेत्र में ऐतिहासिक उपलब्धि

13वीं पंचवर्षीय योजना अवधि में सीपीसी के केंद्रीय समिति ने सामान्य नीति की पुष्टि की कि कृषि और ग्रामीण मामलों का विकास चीन की प्राथमिकता है। साथ ही, उन्होंने ग्रामीण पुनरोद्धार की रणनीति को लागू करने का निर्णय लिया। कृषि और ग्रामीण मामलों के विकास क्षेत्र में चीन ने ऐतिहासिक उपलब्धि प्राप्त की। 27 अक्तूबर को चीनी राज्य परिषद के सूचना कार्यालय द्वारा आयोजित संवाददाता सम्मेलन में चीनी कृषि और ग्रामीण मामलों के मंत्रालय ने इस बारे में जानकारी दी।

चीनी कृषि और ग्रामीण मामलों के मंत्रालय के उप मंत्री ल्यू हुआनशिन ने कहा कि 13वीं पंचवर्षीय योजना के दौरान चीन में गेहूं और चावल की आत्मनिर्भरता दर 100 प्रतिशत से अधिक है, जबकि मकई की आत्मनिर्भरता दर 95 प्रतिशत से अधिक है। साथ ही, चीन में मांस, अंडों, दूध, फलों, सब्जियों और चाय की पर्याप्त आपूर्ति है। वर्ष 2019 पूरे चीन में अनाज का रिकार्ड उत्पादन हुआ और लगभग 66 करोड टन तक जा पहुंचा। 

इसके अलावा चीन में गरीबी उन्मूलन में निर्णायक उपलब्धि हासिल हुई और ग्रामीण पुनरोद्धार की शुरुआत बहुत अच्छी है। इसके साथ-साथ चीन में ग्रामीण सुधार को आगे बढाया गया है। 
उन्होंने आगे कहा कि वर्तमान में वे कृषि और ग्रामीण मामलों के विकास पर 14वीं पंचवर्षीय योजना (वर्ष 2021 से वर्ष 2025 तक) बना रहे हैं। भविष्य में कृषि और ग्रामीण मामला क्षेत्र में वे आधारभूत, दीर्घकालिक और सामरिक मुख्य इंजीनियरिंग परियोजनाओं को लागू करेंगे।
(साभार---चाइना मीडिया ग्रुप ,पेइचिंग)