Holi, farmers, Ghazipur border

गाजीपुर बॉर्डर पर किसानों की सादगी भरी होली, रंग लगा कह रहे वापस हो कानून

गाजीपुर बॉर्डरः कृषि कानूनों के खिलाफ दिल्ली की सीमाओं पर किसानों का प्रदर्शन जारी है। ऐसे में किसान होली भी बॉर्डर पर ही मना रहें हैं। गाजीपुर बॉर्डर पर भाकियू नेता राकेश टिकैत ने अपने तमाम साथियों के साथ होली मनाई। इस मौके पर उन्होंने एक बार फिर कहा कि जब तक कानून वापसी नहीं, घर वापसी नहीं। इससे पूर्व होलिका दहन के अवसर पर किसानों ने कृषि कानून की प्रितिलिपियां जलाई और अपना विरोध दर्ज कराया।

भारतीय किसान यूनियन के राष्ट्रीय प्रवक्ता राकेश टिकैत ने होली की शुभकामनाएं देते हुए कहा कि, "सरकार बात मान ले, किसान घर नहीं जाएगा। किसान तपती गर्मी में भी रहेगा। जितना किसान को परेशान करेंगे उतना ही किसान सरकार के खिलाफ काम करेगा। देशवासियों से अपील करते हुए टिकैत ने कहा कि, "होली का त्योहार शांतिपूर्ण तरीके से मनाएं। रंगों का जिंदगी में बहुत महत्व रहता है।"

बॉर्डर पर मौजूद अन्य किसान भी एक दूसरे को रंग लगा कर बड़ी सादगी के साथ होली मना रहे हैं। दरअसल किसानों ने ये तय किया था कि इस बार की होली सादगी के साथ मनाई जाएगी, क्योंकि आंदोलन में करीब 300 किसानों की मृत्यु हुई है। हालांकि किसान एक दूसरे को रंग लगाने पर शुभकामनाएं तो दे ही रहें है वहीं कानून वापसी की बात भी कर रहें है।


 






Live TV

-->
Loading ...