Amit Shah

गृहमंत्री अमित शाह बोले, किसानों के बुराड़ी ग्राउंड में शिफ्ट होने के दूसरे ही दिन सरकार बात के लिए तैयार

नई दिल्ली: विभिन्न मांगों को लेकर पंजाब और हरियाणा के किसानों के दिल्ली सीमा का घेराव किए जाने पर गृहमंत्री अमित शाह ने बड़ा बयान दिया है। उन्होंने किसानों से दिल्ली में बुराड़ी के निर्धारित ग्राउंड में शिफ्ट होने की अपील की है। उन्होंने आश्वासन दिया है कि बुराड़ी ग्राउंड में किसानों के शिफ्ट होने के दूसरे ही दिन सरकार उनकी मांगों पर चर्चा करने के लिए तैयार है।

गृहमंत्री अमित शाह ने शनिवार को किसान आंदोलन पर बयान जारी किया उन्होंने किसानों से कहा, ‘‘आपकी समस्याओं के संबंध में दिल्ली में चर्चा के लिए किसानों के एक प्रतिनिधिमंडल को भारत सरकार की तरफ से तीन दिसंबर को आमंत्रित किया गया है। इससे पहले आपकी समस्याओं को लेकर 13 नवंबर, 2020 को नई दिल्ली में विस्तृत विचार-विमर्श किया गया था, जिसमें भारत सरकार की ओर से कृषि एवं कल्याण मंत्री और रेल मंत्री शामिल हुए थे।’’

उन्होंने कहा, ‘‘कुछ किसान यूनियन और किसानों की मांग है कि 3 दिसंबर, 2020 की जगह वार्ता जल्द की जाए। तो मैं सभी को आश्वस्त करता हूं कि जैसे ही आप बुराड़ी ग्राउंड शिफ्ट होते हैं उसके दूसरे ही दिन भारत सरकार आपके साथ चर्चा के लिए तैयार है।’’

गृहमंत्री अमित शाह ने कहा कि कुछ दिनों से पंजाब और हरियाणा तथा देश के कुछ अन्य भागों से किसान दिल्ली की सीमा तक आये हैं। इस कारण से पंजाब से आने वाले दो प्रमुख राजमार्गो पर दिल्ली के बॉर्डर के समीप 27 नवंबर की दोपहर से किसान एकत्रित हुए हैं। किसानों को भी भारी ठंड के कारण अनेक समस्याओं का सामना करना पड़ रहा है, साथ ही आने जाने वालों को भी समस्या हो रही है।

गृहमंत्री अमित शाह ने कहा, ‘‘किसान भाईयों से विनम्र अपील है कि आपके लिए सरकार द्वारा दिल्ली के बुराड़ी में एक उचित व्यवस्था की है जहां आप अपना प्रदर्शन कर सकते हैं। सरकार ने वहां पानी, शौचालय और चिकित्सा की व्यवस्था की है, जिससे किसानों को कोई असुविधा न हो। इस ग्राउंड पर लोकतांत्रिक एवं शांतिपूर्ण तरीके से प्रदर्शन हेतु आपको पुलिस की अनुमति भी प्रदान की जाएगी।’’

Loading ...