jalandhar

जालंधर में MBBS डॉक्टर, BDS और AMU को दिया जाएगा मानभत्ताः DC

जालंधरः ( साहिल नरुला) कोविड 19 माहमारी के चलते शहर में लगातार केस बढ़ रहे हैं। वहीं आज जालंधर के डीसी घनश्याम थोरी ने बड़ा ऐलान करते हुए कहा कि जिन मेडिकल और पैरा मे़डिकल स्टाफ की सेवाएं किराये पर लेकर कोविड केयर सेंटर में अतिरिक्त बैडों को स्थापित करने के लिए लगाया जाएगा, उनके मान भत्ते में वृद्धि की गई है। 

डीसी ने जानकारी देते हुए बताया कि मैडीकल अधिकारी एम.बी.बी.एस.डाक्टर के लिए 1.10 लाख रुपए, बी.डी.एस. के लिए 80000 रुपए, आयुर्वैदिक मैडीकल अधिकारी के लिए 60000 रुपए, पैरा मैडीकल स्टाफ (न्यूरो, लैब तकनीशियन और फरमासिस्ट) 35000 रुपए और वार्ड अटेंडेंट के लिए 25000 रुपए होगा। उन्होनें कहा कि इच्छुक उम्मीदवार फ़ोन नंबर 0181 -2224848, 99888 -78866 या ई मेल csjal३३0gmail.com पर अप्लाई कर सकते हैं। इस को राष्ट्रीय सेवा इकरार देते हुए थोरी ने अनुभवी मैडीकल और नान मैडीकल स्टाफ को इस सेवा के लिए आगे आने का न्योता दिया गया। 

 डिप्टी कमिशनर ने कहा कि यह फ़ैसला कोरोना वायरस से प्रभावित मरीज़ों को मानक इलाज उपलब्ध करवाने के लिए मानवीय स्रोतों में विस्तार करने के मंतव्य के लिए किया गया है। उन्होनें कहा कि राज्य सरकर की तरफ से मैडीकल स्टाफ की सेवाएं किराये पर लेने के लिए उनके महीने के भत्ते में विस्तार करने का फ़ैसला किया गया है। उन्होनें कहा कि इसके लिए कम से -कम तीन महीनो का ठेका होगा और इस को ज़रूरत पड़ने पर बढ़ाया भी जा सकेगा। 

डिप्टी कमिशनर ने कहा कि मैडीकल और नान मैडीकल स्टाफों की सेवाए जिला डिजास्टर प्रबंधन अथारिटी के अंतर्गत किराये पर ली जाएंगी और जिला प्रशासन की तरफ से भत्ता स्टेट डिजास्टर रिलीफ़ फंड में से जारी किया जायेगा। उन्होनें कहा कि वाक् इन इंटरव्यू इन पदों के लिए आवेदन करने वाले उम्मीदवारों के लिए की जायेगी। उन्होनें कहा कि प्राथमिकता एम.बी.बी.एस.डाक्टरों को दी जायेगी और यदि वह उपलब्ध न हो तो बी.डी.एस. डाक्टरों की सेवाएं किराये पर ली जाएंगी और यदि किसी कारण यह भी उपलब्ध न हुए तो आयुर्वैदिक मैडीकल अधिकारियों की सेवाओं को किराये पर लिया जायेगा।