Xi Jinping

आशा है चीनी वैज्ञानिक अपनी ऐतिहासिक जिम्मेदारी ले सकेंगे : शी चिनफिंग

चीनी कम्युनिस्ट पार्टी की केंद्रीय कमेटी के महासचिव शी चिनफिंग ने 11 सितंबर को पेइचिंग में वैज्ञानिक बैठक की अध्यक्षता की, और 14वीं पंचवर्षीय योजना के दौरान चीन में विज्ञान व तकनीक कार्य के विकास पर राय सुनी। उन्होंने बल देकर कहा कि वर्तमान में चीन के विकास के सामने देसी-विदेशी वातावरण में गहन व जटिल परिवर्तन आया है। इसलिये विज्ञान व तकनीक के सृजन पर देश का आग्रह अति आवश्यक बन गया है। आशा है कि व्यापक चीनी वैज्ञानिक अपनी ऐतिहासिक जिम्मेदारी निभा सकेंगे।

चीनी इंजीनियरिंग अकादमी के अकदमीशियन शू ख्यांगडी, चीनी विज्ञान अकादमी के अकदमीशियन याओ छीची, शी ईकुंग समेत सात वैज्ञानिक प्रतिनिधियों ने चीन में वैज्ञानिक व तकनीकी व्यवस्था के सुधार को गहन करने आदि मामलों पर राय व सुझाव पेश किये। शी चिनफिंग ने भाषण देने वाले हर वैज्ञानिक के साथ आदान-प्रदान किया, और गहन रूप से विज्ञान व तकनीक के महत्वपूर्ण मामलों और व्यवस्था के सुधार व सृजन पर विचार-विमर्श किया।

शी चिनफिंग ने इस पर जोर दिया कि हमें ठीक समय पर समस्याओं का समाधान करने वाले तकनीकी अनुसंधान को तेज करना चाहिये, और समय से पहले रणनीतिक तकनीकी अनुसंधान की तैनाती करनी चाहिये। चीन की व्यवस्था की श्रेष्ठता से लाभ उठाकर कुछ राष्ट्रीय प्रयोगशालाओं की स्थापना करने के साथ विश्वविद्यालयों की महत्वपूर्ण भूमिका अदा करनी और महत्वपूर्ण क्षेत्रों में कुंजीभूत तकनीक के विकास को मजबूत करना चाहिये।
(साभार- चाइना मीडिया ग्रुप, पेइचिंग)