Gambhir

मुझे नहीं लगता India के खिलाफ England एक भी टेस्ट जीतेगा: Gambhir

मुंबई, भारतीय टीम के पूर्व सलामी बल्लेबाज गौतम गंभीर ने कहा कि इंग्लैंड के पास जिस तरह का स्पिन आक्रमण है ,उससे उन्हें नहीं लगता कि 4 मैचों की टेस्ट श्रृंखला में भारत के खिलाफ उनकी टीम एक भी मैच जीतेगी। इंग्लैंड ने मोईन अली, डोम बेस और जैक लीच जैसे स्पिनरों को अपनी टीम में शामिल किया है। अनुभवी मोईन ने 60 टेस्ट मैचों में 181 विकेट लिये है तो वही बेस और लीच ने 12-12 टेस्ट खेले है। बेस ने 31 और लीच ने 44 विकेट लिये है। गंभीर ने ‘स्टार स्पोर्ट्स’ के कार्यक्रम ‘गेम प्लान’ में कहा, ‘‘ इंग्लैंड के पास जिस तरह का स्पिन आक्रमण है मुझे नहीं लगता कि उनकी टीम एक भी टेस्ट मैच जीतेगी।’’  इस 39 साल के पूर्व खिलाड़ी ने कहा, ‘‘ भारतीय टीम इस श्रृंखला को 3-0 या 3-1 से जीतेगी। मुझे लगता है दिन-रात्रि में खेले जाने वाले टेस्ट मैच में परिस्थितियों के मद्देनजर इंग्लैंड के मैच जीतने का 50 प्रतिशत मौका होगा।’’ गंभीर ने कहा कि श्रीलंका में शानदार बल्लेबाजी करने वाले इंग्लैंड के कप्तान जो रूट को भारत में अलग तरह की चुनौतियों का सामना करना पडेगा। श्रीलंका में इंग्लैंड ने 2-0 की शानदार जीत दर्ज की थी। 

गंभीर ने कहा, ‘‘यह जो रूट जैसे खिलाड़ी के लिए पूरी तरह से अलग चुनौती होगी।’’ उन्होंने कहा, ‘‘ हां, वह श्रीलंका में वास्तव में अच्छा खेले, लेकिन जब आप किसी भी विकेट पर जसप्रीत बुमराह जैसे गेंदबाज का सामना करते हैं, या रविचंद्रन अश्विन का तो यह काफी अलग होगा। वह भी तब जब ऑस्ट्रेलिया में शानदार प्रदर्शन के बाद उनका आत्मविश्वास आसमान छू रहा है, मुझे यकीन है बिल्कुल अगल तरह की चुनौती होगी।’’ श्रृंखला के पहले दो टेस्ट चेन्नई में खेले जाएंगे, जो शुक्रवार से शुरू होगा, तीसरा और चौथा मैच अहमदाबाद के नवीनीकृत सरदार पटेल स्टेडियम में खेला जाएगा। तीसरा मैच गुलाबी गेंद (दिन-रात्रि) से होगा। गंभीर ने कहा कि उन्होंने टेस्ट और वनडे में विराट कोहली की कप्तानी पर कभी भी सवाल नहीं उठाया है, लेकिन टी20 अंतरराष्ट्रीय में उनके नेतृत्व को लेकर समस्या है। भारत के लिए 58 टेस्ट और 147 एकदिवसीय खेलने वाले गंभीर ने कहा, ‘‘ मैंने बार-बार कहा है कि विराट कोहली नेतृत्वकर्ता है, मैं इस बात को लेकर आश्वस्त हूं कि वह पूरी टीम की तरह खुश होंगे। उन्होंने टेस्ट क्रिकेट में बहुत अच्छा किया है।’’ 

उन्होंने कहा, ‘‘ मैंने हमेशा टी20 में उनकी कप्तानी पर सवाल उठाया है। कभी भी उनके (कोहली के) 50 ओवर प्रारूप या टेस्ट मैच की कप्तानी पर सवालिया निशान नहीं लगा है। भारत ने उनके नेतृत्व में वास्तव में अच्छा प्रदर्शन किया है, खासकर लाल गेंद के क्रिकेट में और मुझे यकीन है कि उनकी कप्तानी में टेस्ट मैचों में भारत इसी तरह आगे भी बढ़ता रहेगा।’’ कोहली ऑस्ट्रेलिया में पहले टेस्ट मैच के बाद पितृत्व अवकाश पर भारत लौट आये थे। भारतीय टीम ने चार मैचों की इस श्रृंखला को 2-1 से जीता था। वह इंग्लैंड के खिलाफ चार मैचों की घरेलू श्रृंखला में भारतीय टीम की अगुवाई करेंगे।



Live TV

-->
Loading ...