aviation sector, COVID 19

COVID-19 से 2020 में परेशान रहा भारतीय विमानन क्षेत्र

नई दिल्लीः विमानन क्षेत्र को समाप्त हो रहे वर्ष 2020 में कोविड-19 महामारी और दुनियाभर के देशों में लॉकडाऊन से लोगों के आने-जाने पर 2020 में लंबे समय तक पाबंदी का बड़ा नुक्सान उठाना पड़ा। घरेलू विमानन कंपनिया, हवाई अड्डा कंपनियां भी इससे अछूती न रहीं।

लॉकडाऊन में एयरलाइंस कंपनियों का कारोबार करीब करीब पूरी तरह ठप हो गया और कमाई बंद हो गई और उन्हें बहुत से कर्मचारियों को काम से निकालना पड़ा, कुछ को बिना वेतन की छुट्टियों पर भेजना पड़ा तो कई लोगों का वेतन भी कम हुआ।

Android पर Dainik Savera App डाउनलॉड करें

वर्ष के दौरान सरकारी कंपनी एयर इंडिया को बेचने के लिए जारी निविदा में बोलियां जमा कराने की आखिरी तारीख कोविड-19 से पैदा हालात के बीच पांच बार बढ़ानी पड़ी। महामारी और लॉकडाऊन के चलते देश में सभी नियमित उड़ाने 23 मार्च से 25 मई तक बंद रहीं। बाद में सीमित क्षमता के साथ 25 मई से उड़ानों को धीरे-धीरे शुरू किया गया।

Iphone पर  Dainik Savera App डाउनलॉड करें

Breaking News

Live TV

Loading ...