Vivah Muhurat

तारा डूबने की स्थिति में 18 अप्रैल तक कैसे करें शादी, जानें

इन दिनों शुक्र अस्त की स्थिति में सभी 18 अप्रैल तक शादी करने के लिए या न करने के लिए बाध्य हो रहे हैं। इस स्थिति का हल निकालते हुए ज्योतिषाचार्य नरेश कुमार बराड़ा जी ने कुछ उपाय बताएं हैं। जिससे आपके बच्चों की शादी बिना किसी अड़चन के मंगलमय होगी। ज्योतिष आचार्य जी ने बताया कि शुक्र अस्त होने पर शादी से पहले जब लड़के-लड़की को शगुन दिया जाता है, तो इसमें लड़की को चुन्नी चढ़ाकर उसके बाद लड़के और लड़की को इकठे बिठाएं। उसके बाद एक गौ लेकर एक योग ब्राह्मण को दे क्योंकि शुक्र की प्रतिक गौ होती है। ऐसा करने से शुक्र का दोष खत्म हो जाएगा और आप निर्विगन बच्चों की शादी कर सकते है। 



बता दे कि जो अमीर वर्ग है वे अपने बच्चों की शादी में करीब 20- 25 लाख तक का खर्च करते है वे 25-30 हज़ार तक गौ लेकर दान कर सकते है और जो गरीब वर्ग है जो शादी में इतना खर्च नहीं कर सकते वे लोग चांदी की छोटी गौ जिसके साथ एक छोटा बछड़ा लगा होता है वो दान कर सकते है। ज्योतिष आचार्य जी ने आगे बताया कि जैसे सिख धर्म में ज्यादा तर रविवार के दिन ही शादी की जाती है। 

इसके इलावा ज्योतिष आचार्य जी ने बताया कि अगर आप लोग 18 अप्रैल से पहले शादी करना चाहते है तो किसी भी रविवार के दिन शादी करे और इसमें ध्यान रखें कि फेरे या कन्या दान 12 बजे से 2 बजे के बीच होना चाहिए और उससे पहले जब आपके लड़का या लड़की सेंत पर बैठे तो चांदी की गौ या सजीव गौ योग ब्राह्मण को दान करे। इससे आपको कोई दोष भी नहीं लगेगा और बच्चों की शादी मंगलमय होगी। अगर आपको किसी भी तरह की कोई समस्या आती है तो ज्योतिषाचार्य नरेश कुमार बराड़ा के इस नंबर +91-75289-78880 पर संपर्क कर सकते है। ये ऊपर लिखा गया शास्त्रों को पढ़ने के बाद और ज्योतिष के पूर्ण  अध्ययन  के बाद आपको ये निर्णय दिया गया है। आपके बच्चों की ज़िंदगी मंगलमय होगी।



Live TV

Breaking News

Loading ...