Navratri

जानिए Navratri 2020 की अष्टमी, नवमी और दशमी की सही तिथि और शुभ मुहूर्त के बारे में

शारदीय नवरात्रि 2020: अष्टमी तिथि
इस साल के शारदीय नवरात्रि में अष्टमी तिथि 23 अक्टूबर 2020 को सुबह 6 बजकर 57 मिनट से शुरू होगी और अगले दिन यानी 24 अक्टूबर 2020 को सुबह 6 बजकर 58 मिनट तक रहेगी. ऐसे में भक्तों को अष्टमी का व्रत 23 अक्टूबर 2020 को रखना चाहिए.  नवरात्रि के अष्टमी तिथि को मां दुर्गा के महागौरी स्वरूप की पूजा की जाती है.

शारदीय नवरात्रि 2020: महानवमी तिथि
इस साल महानवमी की तिथि 24 अक्टूबर 2020 को सुबह 6 बजकर 58 मिनट से शुरू होगी और अगले दिन यानी 25 अक्टूबर 2020 को सुबह 7 बजकर 41 मिनट तक रहेगी. इस प्रकार इस शारदीय नवरात्रि में भक्त गण महानवमी का व्रत 24 अक्टूबर 2020 को रखें. महानवमी के दिन मां सिद्धिदात्री की पूजा की जाती है.

कन्या को भोजन कराना
वैसे तो नवरात्रि में किसी भी दिन कन्या को भोजन कराने से बहुत लाभ होता है. लेकिन अष्टमी और नवमी तिथि को कन्या को भोजन कराना बहुत ही शुभ और अत्यंत मंगलकारी होता है. ऐसी मान्यता है कि मां दुर्गा इन कन्याओं के माध्यम से अपना पूजन स्वीकार करती हैं. इन कन्याओं को भोजन कराने से मां बहुत प्रसन्न होती हैं. तथा यह भोजन मां दुर्गा को प्राप्त होता है. इसलिए कन्याओं को भोजन बहुत ही विधि विधान से कराये जाने का विधान है.अष्टमी युक्त नवमी के दिन कन्या को भोजन कराने से अत्यंत और सर्वाधिक लाभ होता है.

नवरात्रि 2020: दशमी तिथि या दशहरा 2020 या विजयादशमी
शारदीय नवरात्रि के दशमी तिथि को विजयदशमी के रूप में मनाया जाता है. इस साल दशहरा 25 अक्टूबर 2020 को सुबह 7 बजकर 41 मिनट से आरंभ हो रहा है, जो कि 26 अक्टूबर को सुबह 9 बजे तक रहेगी. ऐसे में इस साल दशहरा 25 अक्टूबर को मनाया जाएगा.

मां दुर्गा जी के मूर्ति का विसर्जन
मां दुर्गा जी की मूर्ति का विसर्जन 26 अक्टूबर को होगा. 26 अक्टूबर 2020 को सुबह 6.29 बजे से सुबह 8.43 बजे के बीच मूर्ति विसर्जन करना शुभ है.