भगवान शनि देव जी

इस वजह से नहीं रहती भगवान शनि देव जी कृपा, जानिए क्या है वो गलतियाँ

कहा जाता है के अगर भगवान शनि देव जी की कृपा आप पर ना हो तो जीवन में बहुत सारी मुश्किलों का सामना करना पढ़ता है और जीवन से सरलता खत्म होने लगती है। भगवान शनि देव जी को प्रसन्न करना बेहद मुश्किल होता है। लेकिन क्या आप जानते है के अगर शनिवार के दिन भगवान शनि देव जी के साथ साथ भगवान हनुमान जी की भी पूजा की जाए तो बेहद लाभ मिलता है। ऐसे बहुत से काम है जो अपने जीवन में हम करते है वो भगवान शनि देव जी को पसंद नहीं आते। जिस कारण भगवान शनि देव जी कृपा हम पर नहीं रहती। तो आइए जानते है कौनसे है वो काम :

1. जुआ-सट्टा खेलना
2. शराब पीना,
3. ब्याजखोरी करना
4. परस्त्री गमन करना,
5. अप्राकृतिक रूप से संभोग करना,
6. झूठी गवाही देना
7. निर्दोष लोगों को सताना,
8. किसी के पीठ पीछे उसके खिलाफ कोई कार्य करना
9. चाचा-चाची, माता-पिता, सेवकों और गुरु का अपमान करना
10. ईश्वर के खिलाफ होना
11. दाँतों को गंदा रखना,
12. तहखाने की कैद हवा को मुक्त करना,
13. भैंस या भैसों को मारना,
14. सांप, कुत्ते और कौवों को सताना।

उपाय : सर्वप्रथम भगवान भैरव की उपासना करें। शनि की शांति के लिए महामृत्युंजय मंत्र का जप भी कर सकते हैं। तिल, उड़द, भैंस, लोहा, तेल, काला वस्त्र, काली गौ, और जूता दान देना चाहिए। कौवे को प्रतिदिन रोटी खिलावे। छायादान करें, अर्थात कटोरी में थोड़ा-सा सरसो का तेल लेकर अपना चेहरा देखकर शनि मंदिर में अपने पापो की क्षमा मांगते हुए रख आएं। दांत साफ रखें। अंधे-अपंगों, सेवकों और सफाईकर्मियों से अच्छा व्यवहार रखें।
सावधानी : कुंडली के प्रथम भाव यानी लग्न में हो तो भिखारी को तांबा या तांबे का सिक्का कभी दान न करें अन्यथा पुत्र को कष्ट होगा। यदि आयु भाव में स्थित हो तो धर्मशाला का निर्माण न कराएं। अष्टम भाव में हो तो मकान न बनाएं, न खरीदें। उपरोक्त उपाय भी लाल किताब के जानकार व्यक्ति से पूछकर ही करें।



Live TV

Breaking News

Loading ...