Narendra Chanchal, Master Salim

मास्टर सलीम ने नरेंद्र चंचल के निधन पर जताया शोक, कहा- अलविदा

मशहूर भजन गायक नरेंद्र चंचल का 80 साल की उम्र में निधन हो गया है। वह बीते 3 माह से बीमार थे। उनके परिवार में 2 पुत्र और एक पुत्री है। अपोलो अस्पताल के सूत्रों के अनुसार उनके मस्तिष्क में रक्त का जमाव हो गया था। उन्होंने शुक्रवार को करीब साढ़े 12 बजे अंतिम सांस ली। वहीं सूफी गायक मास्टर सलीम ने नरेंद्र चंचल की मौत पर शोक व्यक्त किया है। 

चंचल का जन्म अमृतसर में एक धार्मिक पंजाबी परिवार में 16 अक्टूबर, 1940 को हुआ था। उनके घर में धार्मिक माहौल था और उनकी मां भजन और आरती गाया करतीं थीं। चंचल प्रकृति के नरेंद्र ने अपनी मां से गाना सीखा और माता के भक्ति संगीत को अपार लोकप्रियता प्रदान की। गुलशन कुमार की कंपनी टी सीरिज से उनका करीबी नाता रहा। उन्होंने 1973 में बालीवुड फिल्म पुलिसमैन के लिए पहला गीत गाया, लेकिन 1980 में आई फिल्म ‘आशा’ के ‘तूने मुझे बुलाया’ तथा 1983 में ‘अवतार’ के ‘चलो बुलावा आया है’ गीतों ने धूम मचा दी। उन्होंने आधा दर्जन से अधिक फिल्मों के कई गीतों को अपनी आवाज दी। इसके अलावा उन्होंने 1400 से अधिक गीतों, भजनों की 270 से ज्यादा एल्बमों को सुरों से सजाया।



Live TV

-->

Loading ...