China

विकास का नया मॉडलचीन को बनाएगा समृद्ध

चीनी कम्युनिस्ट पार्टी और सरकार पिछले कई दशकों से देश को प्रगति के रास्ते पर ले जाने के लिए पुरजोर कोशिश कर रही है। चीनी राष्ट्रपति शीचिनफिंग के नेतृत्व में भी देश के नागरिकों का भविष्य बेहतर बनाने के प्रयास जारी हैं। शी के सत्ता में आने के बाद ग़रीबी उन्मूलन की मुहिम बहुत तेज़ हुई। इसी का नतीज़ा है कि चीन ने करोड़ों लोगों को गरीबी के चंगुल से मुक्त कराने में सफलता हासिल की है।13वीं पंचवर्षीय योजना के दौरान देश को खुशहाल बनाने की दिशा में उठाए गए कदमों और उपलब्धियों को नज़रअंदाज करना आसान नहीं है। वह भी ऐसे वातावरण में, जब इस सदी की सबसे खतरनाक महामारी ने पूरे विश्व को बेहाल कर रखा है।

अब चीन 14वीं पंचवर्षीय योजना को लागू करने जा रहा है, जिसमें अर्थव्यवस्था की मजबूती पर ध्यान केंद्रित हुआ है। खासतौर पर चीन विकास के नए चरण में प्रवेश कर रहा है, जिसके तहत दोहरे चक्र वाली अर्थव्यवस्था पर ज़ोर दिया जाएगा। इस नये मॉडल में न केवल खुलेपन पर ध्यान रहेगा, बल्कि देश के भीतर भी विकास के चक्र को घुमाने पर बल दिया जाएगा।

गौरतलब है कि चीन के सर्वोच्च नेता शीचिनफिंग ने हाल में नई विकास अवधारणा के महत्व पर प्रकाश डाला। जिसमें उन्होंने पूर्ण रूप से आधुनिक समाजवादी देश के निर्माण के लिए एक अच्छी शुरुआत करने का आह्वान किया। चीनी राष्ट्रपति के इस बयान से पता चलता है कि वह देश को आधुनिक मार्ग पर ले जाने के लिए कितने प्रतिबद्ध हैं। जैसा कि शी ने कहा कि अगले तीन दशक के दौरान चीन का विकास नए चरण में प्रविष्ट होगा। अगर इस अवधि में देश की जनता, सरकार व पार्टी ने मजबूत इच्छा शक्ति दिखाई तोचीन समृद्ध होने के साथ-साथ व्यापक परिवर्तन की प्रक्रिया से गुजरेगा।

यहां बता दें कि हाल में आयोजित एक महत्वपूर्ण पूर्णाधिवेशन में कहा गया है किचीनव्यापक रूप से खुशहाल समाज के निर्माण और प्रथमसौ वर्षीय लक्ष्य को पूरा करेगा। इसके पश्चात व्यापक रूप से समाजवादी आधुनिक देश का निर्माणकरने की ओर कदम बढ़ायेजाएंगे।

आने वाले वर्षों में चीन के सामने चुनौतियां तो होंगी, लेकिन अवसर भी कम नहीं होंगे। जैसा कि कहा जाता है कि चुनौतियों को अवसर में बदलना आना चाहिए। 
उम्मीद की जानी चाहिए कि चीनमें शहरों और गांवों के बीच का फासला कम होगा, साथ ही अमीरी व गरीबी की खाई को पाटने में कामयाबी मिलेगी। ऐसा होने पर चीन वास्तव में जन केंद्रित व्यवस्था को पूरी तरह से लागू कर पाएगा।
(लेखक-अनिल पांडेय, पेइचिंग)
 
 

Loading ...