climate change

कोई भी देश अकेले नहीं कर सकता जलवायु परिवर्तन का मुकाबला

28 जनवरी को चीनी विदेश मंत्रालय के नियमित संवाददाता सम्मेलन में प्रवक्ता चाओ लीच्येन ने जलवायु परिवर्तन के क्षेत्र में चीन के साथ सहयोग की अमेरिका की इच्छा पर जवाब दिया।
   
उन्होंने कहा कि जलवायु परिवर्तन मानव जाति के सामने मौजूद एक आम चुनौती है और यह मानव जाति के भविष्य से संबंधित है। कोई भी देश इसे अकेले हल नहीं कर सकता है। इसके लिए वैश्विक कार्रवाई, वैश्विक प्रतिक्रिया और वैश्विक सहयोग करना चाहिए। 

लवायु परिवर्तन के क्षेत्र में चीन और अमेरिका के व्यापक समान हित हैं और सहयोग की गुंजाइश भी है। दोनों देशों ने जलवायु परिवर्तन से निपटने के लिए उपयोगी सहयोग किया। दोनों देशों ने पेरिस समझौते पर हस्ताक्षर करने और इसका पालन करने के लिए सकारात्मक और रचनात्मक भूमिका निभाई। चीन अमेरिका और अंतर्राष्ट्रीय समुदाय के साथ जलवायु परिवर्तन मामले का मुकाबला करने के लिए सहयोग करना चाहता है।
  
 चाओ लीच्येन ने जोर देते हुए कहा कि ठोस क्षेत्र में चीन और अमेरिका के बीच सहयोग द्विपक्षीय संबंधों से संबंधित है। चीन को आशा है कि अमेरिका महत्वपूर्ण क्षेत्रों में दोनों देशों के बीच समन्वय और सहयोग के लिए अनुकूल परिस्थिति तैयार करेगा। 
(साभार---चाइना मीडिया ग्रुप ,पेइचिंग)



Live TV

-->
Loading ...