red rice

अब सफदे नहीं बल्कि लाल चावल का करे सेवन, डायबिटीज-अस्थमा जैसी बीमारियों से मिलेगा छुटकारा

सफदे चावल के बारे में हम जानते ही है। इनका इस्तेमाल हमारी रसोईघर में आए दिन होता ही रहता है। कहा जाता है के चावल का सेवन करने से मोटापा बढ़ता है। लेकिन क्या कभी आपने लाल चावल के बारे में सुना है। एक्सपर्ट दावा करते हैं कि लाल चावल में फाइबर, विटामिन बी, फाइबर, जिंक, कैल्शियम, आयरन, मैग्नीशियम, सैलीनियम और काफी एंटीऑक्सिडेंट होते है, जो सफेद और ब्राउन राइस की तुलना में ये 10 गुना ज्यादा पौष्टिक है। इनका सेवन करने से बहुत सी बीमारियों से छुटकारा मिलता है। आज हम आपको लाल चावल से जुड़ी कुछ खास जानकारी देने जा रहे है। तो आइए जानते है : 

किसे कहते हैं लाल चावल?
सफेद चावल को पॉलिशिंग और रिफाइंड जैसे कई प्रोसेस से गुजरना पड़ता है लेकिन लाल चावल को रिफाइंड नहीं किया जाता। 
सिर्फ धान का छिलका हटाने के बाद पकाने के लिए यूज किया जाता है। हालांकि यह सफेद चावलों के मुकाबले पकने में ज्यादा समय लेते हैं लेकिन सेहत के लिहाज से यह काफी फायदेमंद है। दिखने में यह काफी हद तक ब्राऊन राइस की तरह ही होते हैं।

लाल चावल का कैसे करें इस्तेमाल?
1. आप इसे रोजमर्रा की तरह पानी में उबालकर बना सकते हैं। इसके अलावा इसे दाल, कड़ी, बिरयानी और पुलाव के रूप में भई बनाया जा सकता है। इसके अलावा लाल चावल से बने पोहा, खीर या डेजर्ट भी बहुत स्वादिष्ट और पौष्टिक होते हैं।

2. किसी भी चावल को कुकर की बजाए पतीले में पकाएं। फिर इसे छानकर स्टार्च वाला पानी बाहर निकाल दें। इससे इसकी न्यूट्रिशियस वैल्यू बढ़ जाएगी।

3. लाल चावल और दाल के कॉम्बिनेशन से शरीर को कुछ ऐसे जरूरी अमीनो एसिड्स मिलते हैं, जो बॉडी में नहीं बनते।

चलिए अब हम आपको बताते हैं कि लाल चावल खाने से क्या-क्या फायदे मिलते हैं...

डायबिटीज में लाभकारी
फाइबर, प्रोटीन से भरपूर लाल चावल को टाइप-2 डायबिटीज मरीजों के लिए फायदेमंद है। इससे खून में ग्लूकोज की मात्रा नियंत्रित रहती है और ब्लड शुगर भी नहीं बढ़ता।

कोलेस्ट्रॉल कंट्रोल
लाल चावल में कोलेस्ट्रॉल ना के बराबर होती है। साथ ही इससे शरीर में गुड कोलेस्ट्रॉल की मात्रा बढ़ती है, जिससे कोलेस्ट्राल लेवल सही रहती है और दिल की बीमारियों का खतरा काफी हद तक कम हो जाता है। साथ ही यह बल्ड प्रैशर को कम करके हार्ट अटैक का रिस्क घटाते हैं।

कैंसर से बचाव
शोध के मुताबिक, इससे एमिनोब्यूटिरिक नामक तत्व होता है, जो शरीर में कैंसर सेल्स को बढ़ने से रोकता है। इससे कैंसर का रिस्क काफी हद तक कम हो जाता है।

मजबूत हड्डियां
हड्डियों के लिए भी लाल चावल काफी अच्छे होते हैं। इसमें मैग्निशियम होता है, जो हड्डियों को मजबूत बनाने में मदद करता है। इसके अलावा इसमें मैग्निशियम और कैल्शियम भी भरपूर होता है, जो दांतों को मजबूत करने में मददगार है।

वजन घटाए
लाल चावल भूख को कंट्रोल करते हैं , जिससे आप ओवरईटिंग करने से बच जाते हैं। साथ ही इससे मेटाबॉलिज्म बढ़ता है, जिससे वजन घटाने में काफी मदद मिलती है। वहीं, इसमें कैलोरी और फैट की मात्रा भी कम होती है।

आंत से जुड़ी बीमारी
जिन लोगों को आंत से जुड़ी कोई दिक्कत है उनके लिए भी लाल चावल का सेवन फायदेमंद साबित हो सकता है।

नींद ना आना
नींद ना आने की शिकायत और तनाव की शिकायत रहती है तो इसे अपनी डाइट में जरूर शामिल करें। इसमें कुछ ऐसे एंटी-ऑक्सीडेंट होते हैं, जो तनाव और अनिद्रा की समस्या को दूर करते हैं।

एलर्जी में सही
इसमें एंथोसायनिन यौगिक, एंटीऑक्सिडेंट, आयरन, मैंगनीज और फ्लेवोनोइड्स होता है। इससे ना शरीर में फ्री रेडिकल्‍स कम होता है, जिससे इंफ्लमेशन, एलर्जी की समस्या से राहत मिलती है।

अस्‍थमा के लिए बेस्ट डाइट
इसमें मैग्नीशियम होता है , जो शरीर के अंदर ऑक्सीजन के स्तर को बढ़ाती है। साथ ही यह श्वसन प्रणाली के लिए अच्छा है। ऐसे में अस्‍थमा मरीज डॉक्‍टर से सलाह लेकर इसे अपनी डाइट का हिस्सा जरूर बनाएं।



Live TV

Breaking News

Loading ...