OVL, oil reserves, Columbia

कोलंबिया की परियोजना में OVL को मिला बड़ा तेल भंडार

नई दिल्लीः भारतीय कंपनी ओएनजीसी विदेश लि. को मध्य अमेरिकी देश कोलंबिया की लानोस बेसिन परियोजना मे खनिज तेल का एक बड़ा भंडार मिला है। कंपनी ने एक बयान में कहा कि उसने लानोस बेसिन के ब्लाक सीपीओ-5 के एक कूएं इंडिको-2 की खुदायी में तेल का भंडार पया है।

ओएनजीसी विदेश सरकारी क्षेत्र की तेल उत्खनन कंपनी ओएनजीसी की अनुषंगी है और विदेश में तेल खोज व उत्खनन के ठेके लेती है। कोलंबिया की इस परियोजना में ओएनजीसी विदेश 70 प्रतिशत की हिस्सेदार है। इसमें बाकी हिस्सेदारी जीयोपार्क लि. के पास है जो लातीनी अमेरिकी क्षेत्र में तेल/गैस का कारोबार करती है। इंडिको-2 में परीक्षण के दौरान प्रति दिन 6,300 बैरल की दर से तेल की प्राप्ति की गई। इस कूएं का अभी और मूल्यांकन किया जा रहा है।

ओवीएल ने इस ब्लाक में चौथी जगह तेल स्रोत की खोज की है, जिसका वाणिज्यिक दोहन किया जा सकता है। ओएनजीसी विदेश की कोलंबिया में खोज कार्य के लिए सात तेल/गैस प्रखंडों में हिस्सेदारी है। इनके अलवा यह साझा कंपनी मानसरोवर एनर्जी कोलंबिया लि. में बराबर की हिस्सेदारी के साथ दो ऐसे ब्लाक में भी हिस्सेदार है, जहां से तेल/गैस निकासी हो रही है।

Breaking News

Live TV

Loading ...