Anurag Thakur

कृषि विधेयकों पर पक्ष विपक्ष की राय तेज

केंद्र सरकार लारा कृषि संबंधी विधेयकों के पारित होने के बाद पक्षविपक्ष में इस बारे बार-पलटवार जारी है। कांग्रेस जहां इस बिल का खुब कर विरोध कर रही है, वहीं भाजपा ने भी इस बिल के समर्थन में अपने नेताओं को लामबद्ध करना शुरू कर दिया है। भाजपा की ओर से केंद्रीय वित्त राज्य मंत्री अनुराग ठाकुर ने मोर्चा संभाला हुआ है। जितने मुखर तरीके से अनुराग ठाकुर इस बिल बारे बयानबाज़ी कर रहे हैं उस तरह बाकी नेता नहीं कह पाए हैं। अनुराग बिंदु बार इस बिल बारे जनता एवं भाजपा नेताओं को समझा रहे हैं। दूसरी ओर भाजपा के इस निर्णय की धुर विरोधी कांग्रेस मामले को लेकर सड़कों पर आ गई है। परंतु अनुराग ठाकुर ने जनता को मीडिया के माध्यम से केन्द्र सरकार द्वारा कृषि विधेयक को लेकर अवगत कराया। यही कारण है विशेषकर पंजाब व हरियाणा राज्यों के पार्टी अधिकारी अनुराग ठाकुर को अपने-अपने राज्यों के लिए कृषि विधेयक के बारे में किसानों को अवगत करवाने के लिए उन्हें आमंत्रित कर रहे हैं ताकि अनुराग ठाकुर अच्छे तरीके से किसानों को वास्तविक स्थिति से बता सकें। यही नहीं अनुराग ने कृषि विधेयक को लेकर किसानों के मनों में जो आशंका थी कि उन्हें समझाने में महत्वपूर्ण भुमिका निभाई। यही कारण है कि प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी व भाजपा आलाकमान के पदाधिकारी अनुराग ठाकुर द्वारा कृषि विधेयक को आम जनमानस तक पहुंचाया उसके लिए जमकर प्रशंसा कर रहे हैं। अनुराग कृषि विधेयक के अतिरिक्त लोकसभा सत्र के दौरान भी कांग्रेस संसदीय दल के नेता अधीर रंजन से भी उलझे और आखिरकार उन्होंने कांग्रेस को कई मुद्दों पर बैकफुट में भेजने के लिए मजबूर कर दिया।