PF, August, salary

1 अगस्त से बदल जाएगा PF से जुड़ा यह नियम, सैलरी पर पड़ेगा सीधा असर

नई दिल्लीः कोरोना संकट के दौरान अगस्त महीने में प्रोविडेंट फंड (पीएफ) से जुड़ा एक नियम बदलने जा रहा है। दरअसल 1 अगस्त से एंप्लॉयी प्रोविडेंट फंड (ईपीएफ) का कॉन्ट्रिब्यूशन पहले की तरह 24 फीसदी होगा। इसमें 12 फीसदी कंपनी और 12 फीसदी कर्मचारी देगा। सरकार के इस फैसले का फायदा कर्मचारियों को इन हैंड सैलरी में बढ़ोत्तरी के रूप में मिल रहा था।

बता दें कि सरकार के आत्मनिर्भर पैकेज के तहत वित्त मंत्री निर्मला सीतारमण ने मई में ऐलान किया था कि एंप्लॉयी प्रोविडेंट फंड (ईपीएफ) का मंथली कॉन्ट्रिब्यूशन 24 फीसदी से घटाकर 20 फीसदी कर दिया था। सीतारमण ने कहा था कि लॉकडाउन में कारोबार बंद है इसलिए कंपनी और एंप्लॉयी दोनों के कॉन्ट्रिब्यूशन मई, जून और जुलाई 2020 के लिए 24 फीसदी से घटाकर 20 फीसदी किया गया था।

माने लें अगर किसी की बेसिक सैलरी 15 हजार रुपए है तो उसे बीते तीन महीने के दौरान पीएफ में 1,800 रुपए की बजाय अब 1,500 का कॉन्ट्रिब्यूशन देना पड़ा। इस लिहाज से उसके हर महीने 300 रुपए बचें। लेकिन अब इस बदले हुए नियम से सीधा असर सैलरी पर पड़ेगा।