कोरोना

हिसार में व्यक्ति डेढ़ माह बाद फिर कोरोना संक्रमित

हिसार में डेढ़ माह पहले कोरोना को मात देने वाला व्यक्ति फिर से संक्रमित हो गया है। जिले में इस तरह का आया यह पहला केस है जिसमें डेढ़ माह बाद फिर से संक्रमित हुए व्यक्ति ने स्वास्थ्य विभाग की उस धारणा को तोड़ दिया है जिसमें तीन माह तक मरीज के शरीर में एंटी बॉडी का प्रभाव बताया जा रहा था। अभी तक यही बताया गया कि एक बार संक्रमित होने के बाद ठीक होने पर तीन महीने तक शरीर में एंटीबॉडी का प्रभाव रहता है। 


जिससे मरीज तीन महीने तक दोबारा कोरोना से ग्रस्त नहीं हो सकता। डेढ़ माह में कोरोना से संक्रमित होने वाला यह व्यक्ति सामान्य अस्पताल के एक चिकित्सक के पिता है। मिली जानकारी अनुसार करीब 52 वर्षीय यह व्यक्ति पहले 15 अक्तूबर को संक्रमित पाए गए थे। उस दौरान इन्हें कोरोना संबंधित कोई लक्षण नहीं था। क्वारंटाइन का समय पूरा करने के बाद उन्होंने योगाभ्यास व अन्य यौगिक क्रियाओं के साथ सैर करना भी शुरू कर दिया। इसी दौरान दिसंबर महीने की शुरूआत में बुखार हुआ तो फिर से कोरोना टेस्ट करवाया गया जिसमें वे पाजिटिव पाए गए। इससे पहले सिविल अस्पताल के एलटी चार महीने बाद दोबारा कोरोना संक्रमित हुए थे। पहले जुलाई महीने में वे पॉजिटिव मिले थे। 


इसके बाद नवंबर महीने में वे दोबारा पॉजिटिव मिल चुके है। एलटी वेदवर्त ने बताया कि पहली बार जब वे संक्रमित हुए तो उनमें किसी तरह का कोई लक्षण नहीं था। लेकिन दूसरी बार जब वे कोरोना संक्रमित हुए थे तो उस दौरान शरीर के जोड़ो में बहुत तेज दर्द महसूस हुआ था। लगातार तीन दिन तेज बुखार था। हालांकि चार दिन बाद अचानक ठीक हो गया था।

Loading ...