पितृपक्ष

2 सितंबर से 17 सितंबर तक रहेगा पितृपक्ष यानि श्राद्ध

पितृपक्ष हर साल सितंबर के महीने में आता है इसे श्राद्ध के नाम से भी जाना जाता है। इस साल पितृपक्ष यानि श्राद्ध  2 सितंबर से 17 सितंबर तक रहेगा। इस महीने पितृपक्ष के अलावा 18 सितंबर से अधिकमास भी लगने जा रहा है। 3 सितंबर से शुरू होने जा रहे अश्विन माह में हिंदू धर्म के कई विशेष त्योहार भी आएंगे। 

1 सितंबर, मंगलवार: अनंत चतुर्दशी, गणेश विसर्जन, पूर्णिमा श्राद्ध
2 सितंबर, बुधवार: भाद्रपद पूर्णिमा व्रत, प्रतिपद श्राद्ध
3 सितंबर, गुरुवार: अश्विन माह प्रारंभ
5 सितंबर, शनिवार: संकष्टी चतुर्थी
10 सितंबर, गुरुवार: जितिया व्रत, आखिरी महालक्ष्मी व्रत, कालाष्टमी, रोहिणी व्रत
13 सितंबर, रविवार: इन्दिरा एकादशी, एकादशी श्राद्ध
15 सितंबर, मंगलवार: माघ श्राद्ध, मासिक शिवरात्रि, प्रदोष व्रत
16 सितंबर, बुधवार: कन्या संक्रांति, विश्वकर्मा पूजा
17 सितंबर, गुरुवार: अश्विन अमावस्या, सर्व पितृ अमावस्या, विश्‍वकर्मा पूजा
18 सितंबर, शुक्रवार: पुरुषोत्तम अधिकमास प्रारंभ, चंद्र दर्शन
20 सितंबर, रविवार: विनायकी चतुर्दशी व्रत
22 सितंबर, मंगलवार: स्कंद सष्टी
24 सितंबर, गुरुवार: मासिक दुर्गाष्टमी
27 सितंबर, रविवार: पद्मिनी एकादशी, पुरुषोत्तमी एकादशी, कमला एकादशी, विश्‍व पर्यटन दिवस
28 सितंबर, सोमवार: पंचक प्रारंभ
29 सितंबर, मंगलवार: प्रदोष व्रत (शुक्ल)